गुजरात: मोदी-शाह के पोस्टर पर पोती कालिख, हार्दिक पटेल की पार्टी पर लगा आरोप

गुजरात: मोदी-शाह के पोस्टर पर पोती कालिख, हार्दिक पटेल की पार्टी पर लगा आरोप

Shiwani Singh | Publish: Nov, 08 2018 09:51:08 AM (IST) | Updated: Nov, 08 2018 09:51:09 AM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

गुजरात में पोस्टर पर कालिख पोतने के आरोप में पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है।

नई दिल्ली। गुजरात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के दिवाली शुभकामना संदेश की तस्वीरें लगाई गई थी। लेकिन किसी ने इन पोस्टर पर कालिख पोत दी है। कालिख पोतने की खबर सामने आने के बाद राज्य में हड़कंप मच गया। पुलिस ने इस मामले में एक शख्स को गिरफ्तार भी किया है। आरोपी की पहचान पाटीदार अनामत आंदोलन समीति के सदस्य के रूप में की गई है। बता दें कि यह पार्टी पाटीदार नेता हार्दिक पटेल की है।

यह भी पढ़ें-मिजोरम: मुख्य चुनाव अधिकारी पर CM ललथनहवला का गंभीर आरोप, दिल्ली हुए तलब

दिवाली बधाई देने के लिए लगे थे पोस्टर

गुजरात वासियों को दिवाली पर बधाई देने के लिए भाजपा विधायक वीडी जलवाडिया ने ये पोस्टर लगवाए थे। लेकिन हार्दिक पटेल की पार्टी के सदस्य पर कथित तौर पर पोस्टर स्प्रे से कालिख पोतने के घटनाक्रम में शामिल होने का आरोप लगा है। इस संबध में पूना और सरथना पुलिस स्टेशन में केस दर्ज किया गया है। बता दें कि पुलिस को इस बारें में सूचना बुधवार को मिली। पुलिस ने आईपीसी की धारा 153, 427 और 114 के तहत केस दर्ज लिया है।

यह भी पढ़ें-RBI गवर्नर से ऊपर होता है वित्त मंत्री का दर्जा: मनमोहन सिंह

कैसे मिली सूचना?

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, पूना और सरथना पुलिस मंगलवार रात पेट्रोलिंग कर रही थी। तभी उन्होंने पीएम मोदी, शाह और रूपाणी के कालिख पोते पोस्टर देखे। बता दें कि इस पोर्टर में विधायक जलवाडिया भी थे, जो स्थानीय लोगों को दिवाली की मुबारकबाद दे रहे थे। पोस्ट में गुजरात भाजपा अध्यक्ष की तस्वीर भी लगी थी। पोस्टर में जो पाटीदार नेता नहीं थे पीएम मोदी, अमित शाह, सीएम रूपाणी जैसे नेताओं की तस्वीर पर कालिख पोत गई है। वहीं, कोई अप्रिय घटना ना घटे इसके चलते पुलिस ने खुद की अपनी मौजूदगी में इन पोस्टर्स को हटवा लिया और अज्ञात लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज की। अभी तक की जांच पड़ताल में पुलिस ने 21 साल के निकुंज काकड़िया को गिरफ्तार किया है। वह पाटीदार समुदाय का सदस्य है। इसके अलावा अन्य छह लोगों को वांटेड घोषित किया गया है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned