सबसे पहले जानना जरूरी है कि मैं कौन हूं: गुलाब कोठारी

आचार्य महाप्रज्ञ की जन्म शताब्दी के मौके पर अणुव्रत विश्व भारती की ओर से शांति और अहिंसा के मुद्दे पर आयोजित अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में राजस्थान पत्रिका के प्रधान संपादक गुलाब कोठारी ने कहा कि धन जिंदगी का सिर्फ छोटा सा अंश है। हमें जीवन में जो मिलता है, हम कभी संतुष्ट नहीं होते। हम जिंदगी में अधिक से अधिक हासिल करना चाहते हैं और जीवन में हिंसा का यही कारण बनता हैै।

By: अमित कुमार बाजपेयी

Published: 18 Dec 2019, 12:15 AM IST

इंडिया की अन्‍य खबरें
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned