Hathras Gang rape Case: पीड़िता के परिवार से मिलेंगे रामदास आठवले, 31 अक्टूबर तक लगी धारा 144

  • Hathras Gang rape Case के बीच आज पीड़िता के परिवार से मिलेंगे केंद्रीय मंत्री रामदास आठवाले
  • केंद्रीय मंत्री आठवाले ने की आरोपियों को फांसी देने की मांग
  • गुरुवार को राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को यूपी पुलिस ने रास्ते में रोक कर वापस भेजा था दिल्ली

नई दिल्ली। हाथरस गैंगरेप घटना ( Hathras Gang Rape Case ) से देशभर के लोगों में जबरदस्त गुस्सा है। यही वजह है कि पीड़िता के गांव को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। पूरे जिले में धारा 144 लागू कर दी गई है। पुलिसकर्मियों ने पीड़िता के गांव जाने वाले रास्तों को भी सील कर दिया है। ऐसे में केंद्रीय मंत्री और रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के चीफ रामदास आठवले दो अक्टूबर शुक्रवार को पीड़िता के परिवार वालों से मिलेंगे।

पुलिस और प्रशासन किसी को भी पीड़िता के परिजनों तक पहुंचने नहीं दे रहा है। ऐसे में केंद्रीय मंत्री के दौरे पर हर किसी की नजर रहेगी। आपको बता दें कि गुरुवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी समेत अन्य लोगों को भी पीड़िता के परिजनों से मिलने नहीं दिया गया। उन्हें पुलिसकर्मियों ने रास्ते में रोक कर दोबारा दिल्ली लौटा दिया था।

कोरोना संकट के बीच आई बड़ी खबर, प्रदूषण और ठंड के साथ देश में बढ़ सकता है कोविड-19 का खतरा, दोगुना हो सकता है मौत का आंकड़ा

आखिरकार भारत आ पहुंचा एयर इंडिया वन, अब दुनिया के ताकतवर नेताओं के बराबर होगी पीएम मोदी की सुरक्षा, जानें इस विमान की खासियत

हाथरस की घटना को लेकर केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने कड़ी निंदा की है। यही नहीं उन्होंने पीड़िता के आरोपियों को खिलाफ सख्त सजा के साथ फांसी की मांग भी की है। यही नहीं 2 अक्टूबर को उन्होंने पीड़िता के परिजनों से मिलने की बात भी कही है। केंद्रीय मंत्री ने कहा है कि वे पीड़िता के परिजनों से मिलकर उन्हें सांत्वना देंगे। साथ ही परिजनों को ये विश्वास दिलाएंगे कि देश उनके साथ खड़ा है।

सीएम योगी से करेंगे ये मांग
शनिवार को वो रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के चीफ रामदास आठवाले हाथरस मामले को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी मिलेंगे। आठवले ने कहा है कि वे सीएम योगी से मांग करेंगे कि पीड़िता के परिजनों के आर्थिक मदद दी जाए।

आठवले ने हाथरस पीड़िता के परिजनों से मिलने की बात ऐसे समय पर कही है जब प्रदेश सरकार किसी को भी पीड़िता के परिजनों ने मिलने नहीं दे रही है।

दिल्ली लौटे राहुल और प्रियंका
इससे पहले गुरुवार को हाथरस गैंगरेप मामले को लेकर दिल्ली से हाथरस के लिए रवाना हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को यूपी पुलिस ने हिरासत में ले लिया। ग्रेटर नोएडा के पास यूपी पुलिस और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच हाथापाई के दौरान राहुल गांधी जमीन पर भी गिर पड़े।

निर्भया की वकील को भी रोका गया
निर्भया का केस लड़ने वाली वकील सीमा कुशवाह भी पीड़िता का केस लड़ने लिए उनके परिजनों से मिलने गांव जा रही थी, उन्हें भी रोक दिया गया। आरोप है कि एडीएम ने उनके साध बदसलूकी तक कर डाली।

सीबीआई जांच की मांग
आपको बता दें कि पीड़ित परिवार ने इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की है। यही नहीं पीड़िता के पिता ने सरकारी अधिकारियों पर बयान बदलने का दबाव बनाने का भी आरोप लगाया है।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned