कोरोना की जांच के लिए आई पहली स्वदेशी किट, अब घर बैठे कोई भी कर सकेगा जांच

Highlight

- इससे पहले चीन ( China ) से मंगाई गई रैपिड टेस्टिंग किट ( Rapid Testing Kit ) पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया था

- इस किट के जरिए कोई भी अब घर बैठे कोरोना ( Corona ) की जांच कर सकेगा

नई दिल्ली। चीन और कोरिया ( China and Korea ) की टेस्टिंग किट में गड़बड़ी के बाद भारत ने कोरोना ( coronavirus ) की जांच के लिए स्वदेशी किट तैयार कर लिया है। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी ने स्वदेशी टेक्नीक से IGG-ELISA टेस्ट किट विकसित किया है। इसकी मदद से इंसान के शरीर में कोरोना वायरस के एंटीबॉडी का पता चल सकेगा। इस किट के बारे में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने घोषणा की है।

चीन से मंगाई गई रैपिड टेस्टिंग किट पर भारत में लगा प्रतिबंध

डॉ हर्षवर्धन ने बताया कि इस किट से संक्रमण के संपर्क में आनेवाली आबादी के अनुपात की निगरानी रखने में काफी अहम सहायता मिलेगी। आपको बता दें कि इससे पहले चीन से रैपिड टेस्टिंग किट मंगाई गई थी, लेकिन उसमें गड़बड़ी के कारण उसके प्रयोग पर भारत सरकार ने प्रतिबंध लगा दिया है।

हैदराबाद की कंपनी ने बनाई कोरोना की इजी टेस्टिंग किट

इस किट की घोषणा से दो दिन पहले हैदराबाद की जेनॉमिक्स बॉयोटेक नाम की कंपनी ने भी सबसे सस्ती किट बनाने का दावा किया था। ऐसा दावा किया जा रहा है कि इस किट से घर बैठे ही कोई भी कोरोना की जाँच कर सकता है। कंपनी के मुताबिक, किट की कीमत 50 से 100 रुपए के बीच होगी। आपको बता दें कि चीन की रैपिड किट पर 400-600 तक का खर्च आता था। और उसके लिए मेडिकल टीम की जरूरत थी, जबकि इस कीट से आप खुद जांच कर सकते हैं।

coronavirus कोरोना वायरस
Show More
Kapil Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned