केरल में भारी बारिश बनी मुसीबत, कोझीकोड में बदतर हुए हालात

Siddharth Priyadarshi

Publish: Jun, 14 2018 01:20:50 PM (IST)

इंडिया की अन्‍य खबरें
केरल में भारी बारिश बनी मुसीबत, कोझीकोड में बदतर हुए हालात

केरल में पिछले 72 घंटो के दौरान हुई मूसलाधार बारिश से आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। राज्य के कोझीकोड में भारी बारिश के चलते पिछले चौबीस घंटे में बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं।

कोझीकोड। केरल में पिछले 72 घंटो के दौरान हुई मूसलाधार बारिश से आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। राज्य के कोझीकोड में भारी बारिश के चलते पिछले चौबीस घंटे में बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं। भारी बारिश के चलते कोझीकोड में हालात बदतर हो गए हैं। मीडिया सूत्रों के मुताबिक कासरगोड़ में भी एक व्यक्ति की बाढ़ की चपेट में आकर मौत हो गयी। उधर कोझीकोड के साथ ही राज्य के कन्नूर, पतनमतिट्टा, कासरगोड़ और तिरुवनंतपुरम जिलों में बारिश और बाढ़ से व्यापक तबाही हुई है। इन सभी जगहों से कम से कम एक-एक व्यक्ति की मौत हो जाने की खबरे हैं।

तमिलनाडु: पलानीस्‍वामी सरकार पर मंडराया 'कर्नाटक क्राइसिस' का खतरा

केरल में बारिश का कहर

दक्षिण पश्चिम मानसून बुधवार की रात केरल में खूब सक्रिय हुआ। भारी बारिश के चलते गुरुवार सुबह तक एक नौ वर्षीय लड़की समेत चार लोगों की मौत हो चुकी थी। बारिश के चलते जिले के ग्रामीण बेल्ट के कक्कयम, पुलुरम्पाड़ा, कट्टिपारा, करिंचोला और चामल क्षेत्रों सहित कई स्थानों पर भूस्खलन हो गया । इन क्षेत्रों से 13 लोग गायब हैं और उनकी पड़ताल की जा रही है।

 

सड़कों पर पानी

मूसलाधार बारिश से सड़कों पर जल-जमाव हो गया है।भारी बारिश के चलते तिरुवंबडी क्षेत्र पूरी तरह जलमग्न हो गया है। इस क्षेत्र में 250 से अधिक घरों को नुक्सान पहुंचा है। अनुमान है कि बारिश के चलते फसलों के कारण फसलों को भी नुकसान पहुंचा है। राज्य के आपदा प्रबंधन प्राधिकरण बाढ और जल जमाव के बीच फंसे परिवारों को बचाने की कार्रवाई शुरू क्र दी है। त्रिशूर से आई एनडीआरएफ की एक टीम बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों से लोगों को निकालने में लगी हुई है।

दिल्ली में जुटेंगे संघ और भाजपा के दिग्गज, सरकार के कामकाज के साथ मिशन 2019 पर होगी चर्चा

बारिश के चलते कोझीकोड को जड़ने वाली कई सड़कें बंद हो गईं हैं। कोझीकोड-मैसूर-कोलगलेल राजमार्ग पर यातायात अवरुद्ध है।कोझीकोड पहुंचने के लिए वैकल्पिक कुट्टीयाडी रोड के माध्यम से वाहनों को चलाया जा रहा है। कोदुवल्ली के पास नेल्लमकंडी में बाढ़ के बाद यातायात बाधित हो गया है।

बढ़ा नदियों का जलस्तर

केरल में अप्रत्याशित वर्षा के बाद चलीयार, इरुवनजिपुझा और पुणुर नदियों के जल स्तर में वृद्धि जारी है। जल संसाधन विभाग ने कहा कि कक्कयम और पेरुवन्नमुझी बांधों के बंदरगाह खोले जाएंगे और क्षेत्र के पास रहने वाले लोगों को चेतावनी जारी की जाएगी। बाढ़ से निपटने के लिए कोझिकोड, वडकारा, कोयिलैंडी और थैमरसेरी में नियंत्रण कक्ष स्थापित किए गए हैं।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned