कोरोना टीकाकरण कराने जाने से पहले जान लें ये जरूरी बातें, वरना नहीं मिलेगी वैक्सीन

  • वरिष्ठ नागरिक और 45 साल से ज्यादा उम्र के गंभीर रोगों से ग्रसित लोगों के लिए 1 मार्च से कोरोना टीकाकरण शुरू हो जाएगा
  • स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसके लिए ही एक गाइडलाइन जारी की है
  • शुक्रवार को इसके लिए अहम बैठक भी हुई।
  • बैठक में सभी राज्यों के स्वास्थ्य सचिवों के साथ केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण मौजूद थे

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस के मामले फिर से बढ़ने लगे हैं। कोरोना की सेकेंड वेव का खतरा देखते हुए सरकार ने कोरोना की मौजूदा गाइडलाइंस को आगामी 31 मार्च तक बढ़ा दिया है। इसके साथ ही गृहमंत्रालय ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को टीकाकरण की रफ्तार बढ़ाने के लिए भी कहा है।

वहीं वरिष्ठ नागरिक और 45 साल से ज्यादा उम्र के गंभीर रोगों से ग्रसित लोगों के लिए 1 मार्च से कोरोना टीकाकरण शुरू हो जाएगा। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसके लिए ही एक गाइडलाइन जारी की है। आज यानी शुक्रवार को इसके लिए अहम बैठक भी हुई। इसमें सभी राज्यों के स्वास्थ्य सचिवों के साथ केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण मौजूद थे। बैठक की अध्यक्षता भूषण ही कर रहे थे।

Covid-19 Guidelines: 31 मार्च तक जारी रहेंगी कोरोना गाइडलाइन, गृह मंत्रालय ने दिए आदेश

जानकारी के मुताबिक, इस बैठक में Cowin-2.0 ऐप को लेकर भी चर्चा हुई। बैठक में कहा गया कि 60 साल से ऊपर सभी लोगों का वैक्सीनेशन किया जाएगा। इसके साथ ही 45 साल से 59 साल के बीच जो लोग गम्भीर बीमारी से जूझ रहे हैं, उनका टीकारणण भी होगा। इनके अलावा जो स्वास्थ्यकर्मी और फ्रंटलाइन वर्कर्स टीका लगवाने से छूट गए हैं वो भी वैक्सीन ले सकते हैं।

कैसे करें रजिस्ट्रेशन?

कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए सबसे पहले Advance Self Registration करके Cowin 2.0 पोर्टल डाउनलोड करके और आरोग्य सेतु के ज़रिये अपना पंजीकरण करवाना होगा।

यहां सरकारी और प्राइवेट वैक्सीनेशन सेंटर दिए होंगे। साथ ही टीकाकरण के समय भी बताया गया होगा। आप यहां से अपॉइंटमेंट ले सकते हैं।

अगर आपके पास Appointment नहीं हो तो भी आप सीधा निर्धारित वैक्सीनेशन सेंटर पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। हालांकि इसके लिए आपको लाइन में लग कर अपना नंबर आने तक इंतजार करना होगा।

बड़ी खुशखबरी: विकास की राह पर भारतीय अर्थव्यवस्था, दिसंबर तिमाही में 0.4 फीसदी बढ़ी GDP

जरूरी है पहचान पत्र

वैक्सीनेशन सेंटर पर वैक्सीन लेने के लिए आपके पास एक पहचान पत्र जरूर होना चाहिए। वहीं 45 से 49 साल के बीमार लोगों के लिए रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर्स से सर्टिफिकेट लेना होगा।

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned