हैदराबाद रेप केस: भूख हड़ताल पर बैठीं स्वाति मालीवाल, पीएम मोदी को चिट्ठी लिख की ये मांग

  • जंतर-मंतर पर स्वाति मालिवाल ने शुरू किया भूख हड़ताल
  • रेप जैसी वारदातों पर सख्त कानून ही लगा सकते है रोकथाम: स्वाति मालिवाल

नई दिल्ली। पूरा देश इस वक्त हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ हुई हैवानियत को लेकर गुस्से में है। इस मामले की गूंज सड़क से लेकर संसद तक फैली हुई है। क्या आम लोग और क्या नेता-अभिनेता सभी ऐसे मामलों में आरोपियों को तुरंत सजा की मांग कर रहे हैं। इसी क्रम में दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने एक बड़ा ऐलान किया है। स्वाति मालीवाल ने देश भर में बच्चियों और महिलाओं के साथ बढ़ रहे दुष्कर्म के मामलों के खिलाफ भूख हड़ताल करने की घोषणा किया है।

मंगलवार से जंतर-मंतर पर भूख हड़ताल

जानकारी के मुताबिक, स्वाति मालीवाल मंगलवार से जंतर-मंतर पर अपनी भूख हड़ताल शुरू किया। अपने इस प्रदर्शन की घोषणा करते हुए उन्होंने कहा था कि बीते हफ्ते से ही देश के अलग-अलग हिस्सों से बच्चियों और महिलाओं के साथ दरिंदगी के बाद हत्या के कई मामले लगातार सामने आ रहे हैं। इतना सब होने के बाद भी सरकार इसके खिलाफ कोई सख्त कानून नहीं बना रही है। आपको बता दें कि भूख हड़ताल पर बैठने से पहले मालीवाल ने पीएम नरेंद्र मोदी को इस संबंध में एक पत्र भी लिखा है।

इसमें उन्होंने लिखा है:

- रेप के दोषियों को हर हाल में फांसी हो

- निर्भया फंड का बंटवारा हर राज्य में हो

- दिल्ली में 45 फास्ट ट्रैक कोर्ट का गठन हो

- आप (पीएम मोदी) जबतक वादे पूरे नहीं करते तबतक जारी रहेगा आमरण अनशन

मांग पूरी होने तक जारी रहेगा धरना

मालीवाल का मानना है कि ऐसे मामलों में सख्त कानून ही रोकथाम लगा सकते है। उन्होंने कहा, '(मैं) इसी मांग को लेकर भूख हड़ताल पर बैठ रही हूं। जब तक मेरी मांग पूरी नहीं होगी, विरोध धरना जारी रहेगा।'

Show More
Shweta Singh
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned