ICMR ने आंध्र प्रदेश में रैपिड टेस्टिंग को दी हरी झंडी, दक्षिण कोरिया से आएंगी किट

Highlight

- दक्षिण कोरिया से मंगाई जाएंगी रैपिड टेस्टिंग किट

- राज्य में रैपिड टेस्टिंग किट से किए जा चुके हैं 14,423 टेस्ट

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश में कोरोना वायरस की जांच के लिए रैपिड टेस्टिंग को हरी झंडी मिल गई है। दरअसल, ICMR ने दक्षिण कोरिया से लाई गईं रैपिड टेस्टिंग किट्स से जांच करने की इजाजत दे दी है। इस बारे में आंध्र प्रदेश सरकार के एक अधिकारी ने गुरुवार को जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि इन रैपिड किट्स से जांच एक निर्धारित प्रोटोकॉल के तहत की जाएगी।

रेड जोन में सबसे अधिक जांच कराई गई रैपिड टेस्टिंग

अधिकारी ने बताया कि रैपिड टेस्ट किट से अब तक कुल 14,423 टेस्ट किए गए हैं। इनमें से 11,543 टेस्ट आंध्र प्रदेश के रेड जोन इलाके में किए गए हैं। कुल जांच में से 30 में कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इन सभी सैंपल को RT-PCR से जांच के लिए भेज दिया गया है।

केंद्र सरकार ने लगाई थी रैपिड टेस्टिंग पर दो दिन के लिए रोक

इससे पहले, चीन से लाए गए रैपिड टेस्टिंग किट में गड़बड़ी के कारण मंगलवार को केंद्र सरकार ने इस पर रोक लगा दी थी। दरअसल, राजस्थान सरकार ने उन किट से जांच पर सवाल उठाया था और राज्य में इससे टेस्टिंग पर रोक लगा दी थी। इसके बाद उसी शाम केंद्र सरकार ने भी देशभर में दो दिन के लिए रैपिड टेस्टिंग पर रोक लगा दी थी।

आंध्र प्रदेश कर रहा है कोरोना के लिए सबसे अधिक जांच

आपको बता दें कि आंध्र प्रदेश में कोरोना के लिए सबसे अधिक पैमाने पर जांच की जा रही है। इस राज्य में हर दस लाख लोगों पर 961 टेस्ट कराए जा रहे हैं। सिर्फ बुधवार को ही कोरोना के लिए 6,520 लोगों का RT-PCR कराया गया है। राज्य में अब तक 48,034 टेस्ट कराए जा चुके हैं।

Show More
Kapil Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned