मंत्री ने बच्चों की शिक्षा और स्कूल आने पर एक विवादित बयान, सोशल मीडिया पर हो रही है खिचाई

Ravi Gupta

Publish: Oct, 09 2017 04:39:53 (IST)

Miscellenous India
मंत्री ने बच्चों की शिक्षा और स्कूल आने पर एक विवादित बयान, सोशल मीडिया पर हो रही है खिचाई

यूपी के एक मंत्री ने कहा अगर बच्चों को स्कूल नहीं भेजा, तो पेरेंट्स जाएंगे जेल...

पढ़ाई करना करना अच्छी बात है। हर बच्चे को शिक्षा के अधिकार के तहत पढ़ाई करने का अधिकार प्राप्त है। भारत सरकार भी बच्चों के शिक्षा के लिए सर्व शिक्षा अभियान के तहत एक कार्यक्रम चलाती है, जिससे सभी बच्चों को शिक्षा प्राप्त हो सके। लेकिन बच्चों की शिक्षा को लेकर बीजेपी के एक मंत्री ने बयान दिया है। उत्तर प्रदेश के मंत्री ओम प्रकाश राजभर अपनी वीडियो के चलते सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। वीडियो में साफ लोगों को चेताते हुए दिख रहे हैं कि अगर वे अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजेंगे तो उन्हें जेल में बंद कर दिया जाएगा। दिव्यांगजन मंत्री ओम प्रकाश ने एक सम्मेलन में कहा कि वह अपनी तरफ़ से एक कानून बनाने की सोच रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनके मन है कि अगर लोग अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजेंगे, तो उन परिजनों को पुलिस स्टेशन में पांच दिनों के लिए बंद किया जाए। इसके अलावा इन लोगों को न तो खाना दिया जाए औक न ही पानी। सम्मेलन के दौरान ओमप्रकाश ने कहा कि अगर लोग अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजेंगे, तो उन्हें पुलिस गिरफ़्तार करेगी।
यही नहीं ओमप्रकाश ने बच्चों की अनिवार्य शिक्षा का उदाहरण भगवान राम-सीता की जोड़ी का देते हुए कहा कि जिस तरह रावण से माता सीता को छुड़ाने के लिए भगवान राम को कठिन कदम उठाने पड़े थे। उसी तरह जो लोग अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजते हैं, उनके खिलाफ़ भी सख़्त कदम उठाने की ज़रूरत है। ओमप्रकाश ने यहां तक कह दिया अगर वह उनके परिजन बच्चों को स्कूल में पढ़ने के लिए नहीं भेजते हैं, तो वह इस मामले में मृत्युदंड के भी समर्थन में हैं।

ओमप्रकाश के इस तुगलकी फरमान भरे बयान के बाद उनका यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा और लोगों ने भी उन्हें जमकर ट्रॉल किया। लेकिन लोगों के तीखे और कड़वे बयानों के बावजूद मंत्री जी का कहना है कि वह अभी भी अपने इस विवादास्पद बयान पर कायम है। अपने बयान के पीछे लॉजिक देते हुए कहा कि लोग अपने बच्चों को स्कूल क्यों नहीं भेज रहे हैं। जब सरकार सभी बच्चों के लिए शिक्षा की सारी सुविधाएं दे रही है तो लोग अपने बच्चों को स्कूल क्यों नहीं भेज रहे हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें ऐसा लगता है कि अगर उनके डराने धमकाने से लोग अपने बच्चों को स्कूल भेजना शुरू कर देते हैं, तो इसमें बुराई क्या है?

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned