मौसम विभाग ने की सर्दियों की भविष्यवाणी, दिसंबर के पहले सप्ताह से हो जाएं तैयार

  • आईएमडी ने बताया( IMD Forecast ) कि प्रदूषण में होगी वृद्धि।
  • दिसंबर के पहले सप्ताह से पारे में दिखेगी गिरावट।
  • राजधानी दिल्ली की हवाएं अभी भी प्रदूषण से भरी।

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली की आबोहवा फिर से थोड़ी खराब हो गई है। सरकारी एजेंसियों ने कहा कि पड़ोसी राज्यों में खेत में पराली जलाने के मामलों में मामूली बढ़ोतरी और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में धीमी हवाओं के परिणामस्वरूप रविवार को शहर की हवा थोड़ी खराब हो गई। वहीं, भारत मौसम विभाग ( IMD Forecast ) ने दिसंबर के पहले सप्ताह से तापमान में गिरावट आने की संभावना जताई है।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के अनुसार, रविवार को दिल्ली का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 256 था, जो पिछले दिन के 231 से ज्यादा था। यह दोनों ही आंकड़े 'खराब' के रूप में वर्गीकृत किए गए हैं। इस बीच, मौसम वैज्ञानिकों ने 2 दिसंबर के बाद प्रदूषण के स्तर में और बढ़ोतरी होने की संभावना जताई है, जिसके चलते तापमान में गिरावट और हवाओं के कम होने की संभावना है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के वैज्ञानिकों ने इन सर्दियों में दिल्ली सहित उत्तर और उत्तर-पश्चिम भारत के कुछ हिस्सों में सामान्य न्यूनतम तापमान से पारा नीचे रहने का अनुमान लगाया है।

आईएमडी के क्षेत्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा, "आने वाले सप्ताह में न्यूनतम तापमान 6-8 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की संभावना है। आमतौर पर तापमान में ऐसी गिरावट 20-22 दिसंबर तक देखी जाती है, लेकिन इस साल महीने के पहले दो सप्ताह में होने की संभावना है। यह हवा की गुणवत्ता को प्रभावित कर सकता है, क्योंकि 4-5 दिसंबर के आसपास हवाएं शांत होने की संभावना है।"

बता दें कि रविवार को सफदरजंग ऑब्जर्वेटरी में से दिल्ली के मौसम को बताने के लिए हासिल किए गए आंकड़ों में न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से तीन डिग्री कम था। अधिकतम तापमान 26.4 डिग्री सेल्सियस था, जो सामान्य से एक डिग्री ऊपर था, जबकि हवाएं 8 से 10 किमी प्रति घंटे की गति से चल रही थीं। उन्होंने कहा, "अगले दो दिनों तक हवा की गति लगभग समान रहेगी, लेकिन दो दिसंबर से धीमी हो जाएगी।"

शुक्रवार को जारी दिसंबर से फरवरी के लिए आईएमडी के मौसमी दृष्टिकोण के मुताबिक, उत्तर, उत्तर-पश्चिम और मध्य भारत के अधिकांश हिस्सों और पूर्वी भारत के कुछ हिस्सों में रात और तड़के सामान्य न्यूनतम तापमान के नीचे रहने की संभावना है, जबकि इन्हीं क्षेत्रों में दिन का तापमान सामान्य से ऊपर रहने की संभावना है।

केंद्रीय मंत्रालय की एयर क्वालिटी फोरकास्टिंग विंग सिस्टम फॉर एयर क्वॉलिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) के अनुसार, रविवार को शहर के PM2.5 स्तर पर पराली जलाने का हिस्सा पिछले दिन के 4 फीसदी से बढ़कर 6 फीसदी तक बढ़ गया।

सफ़र बुलेटिन में बताया गया, "आग लगने के मामलों की संख्या 464 थी। वेंटिलेशन की स्थिति 2 दिसंबर से धीमी होने की संभावना है और इसके बाद हवा की गुणवत्ता के "बहुत खराब" क्षेत्र में खराब होने की संभावना है।"

Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned