शाम होते ही कुछ ऐसा करता है यह IAS कि आपकी आंखे भी खुली रह जाएंगी

शाम होते ही कुछ ऐसा करता है यह IAS कि आपकी आंखे भी खुली रह जाएंगी

Ravi Gupta | Publish: Nov, 15 2017 05:32:38 PM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

कहते हैं कि इंसान चाहे अपने करियर में कहीं भी चला जाए, उसका नेचर वैसे ही रहता है, जैसा वह है...

नई दिल्ली। एक आईएएस हैं। फरीदाबाद में रहते हैं। रात के अंधेरे में यह आईएएस शख्स ऐसा काम करते हैं कि आपको भी उन पर नाज होगा। प्रवीन कुमार नाम के यह आईएएस फरीदाबाद के सेक्टर-15 में रहते हैं। वह फरीदाबाद के जिला उपायुक्त हैं। इसके साथ ही वह नगर निगम गुड़गांव के कमिश्नर भी रह चुके हैं। इस समय वह हरियाणा पुरातत्व विभाग में डायरेक्टर के पद पर तैनात हैं। लेकिन अपने इस बिजी शेड्युल में भी वह कुछ समय गरीबों के लिए निकालते हैं। उनके अंदर अच्छा काम करने की इतनी भावनाएं हैं कि वह अपने काम की व्यस्तता के बीच वे रात को समय निकालते हैं और ऐसा काम करते हैं कि आपको उन पर नाज़ होगा।

IAS

आपने होटलों के बाहर बचा हुआ खाना उठाने वाले को आपने देखा होगा लेकिन अगर कोई आईएएस ऐसा करता दिख जाए तो आप जरूर हैरान रह जाएंगे। जी हां, ऐसा अक्सर फरीदाबाद में देखा जा सकता है। हरियाणा पुरातत्व विभाग के डायरेक्टर आईएएस प्रवीन कुमार अकसर रात के अंधेरे में होटलों के बाहर बचा हुआ खाना उठाते हैं। वे उस खाने को भूखे आवारा पशुओं को खिलाते हैं।

IAS

वह रात को अंधेरे में जिन होटलों में बचा हुआ खाना फेंकने के लिए रखा जाता है उसे इकट्ठा करते हैं और उसे आवारा घूमने वाले पशुओं को खिलाते हैं। पिछले काफी समय से वे ऐसा कर रहे हैं। वह बताते हैं कि उन्हें इस काम की प्रेरणा सूरजकुंड में मिली। एक दिन वे एक निजी होटल में खाने के लिए गए हुए थे। जब वहां से बाहर निकले तो उन्होंने देखा कि होटल के साइड में बचा हुआ खाना पड़ा था। इस खाने को देख उनके मन में ख्याल आया कि क्यों न इस खाने को भूखे जानवरों तक पहुंचाया जाए। यह सोचकर उन्होंने इस मुहिम को शुरू किया। प्रवीन कुमार का कहना है कि ऐसा काम करने में उन्हें किसी भी प्रकार की कोई शर्म महसूस नहीं होती।

IAS
Ad Block is Banned