इस मामले में बांग्लादेश से भी पिछड़ गया भारत, जानिये क्या

amit sharma

Publish: Oct, 13 2017 11:06:32 (IST)

Miscellenous India
इस मामले में बांग्लादेश से भी पिछड़ गया भारत, जानिये क्या

बच्चों के स्वास्थ्य के मामले में नेपाल, म्यांमार और ईराक जैसे देशों से भी पीछे है भारत

नई दिल्ली. भारत खुद को भले ही एक उभरती वैश्विक ताकत साबित करने की कोशिश में लगा हुआ हो, लेकिन इसकी एक सच्चाई ये भी है कि कई मामलों में इसकी हालत अपने पड़ोसी गरीब देशों नेपाल, बांग्लादेश और श्रीलंका से भी बुरी है. ग्लोबल हंगर इंडेक्स (GHI) की ताज़ा जारी रिपोर्ट में भारत की स्थिति 100 वें स्थान पर है, जबकि इसी लिस्ट में नेपाल उससे बहुत ऊपर 72 वें स्थान पर तो बांग्लादेश 88वें स्थान पर है.
मौजूदा मोदी सरकार के लिए एक तथ्य और भी चिंताजनक है कि पिछले वर्ष इसी लिस्ट में भारत 97वें पायदान पर था, यानी इस वर्ष उसके यहां स्थिति और अधिक खराब हुई है.

WhatsApp पर लिखा ये दर्दनाक स्टेटस, और मौत को लगा लिया गले

चीन से बहुत पीछे है भारत

इस मामले में भारत के पड़ोसी देशों में चीन सबसे आगे है और वह 29वें स्थान पर है. इस लिस्ट में सिर्फ पाकिस्तान 106वें नंबर पर और अफगानिस्तान 107वें नंबर पर हैं जो भारत से पीछे हैं. भारत इस मामले में लम्बे समय से युद्ध की आग में झुलस रहे ईराक से भी पीछे है. म्यांमार इस लिस्ट में 77वें स्थान पर तो नार्थ कोरिया 93वें स्थान पर हैं.

दलित लेखक कांचा इलैया पर केस दर्ज, अपनी पुस्तक के जरिये धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप

क्या है ग्लोबल हंगर इंडेक्स (GHI) और इसका पैमाना

विश्व के सभी प्रमुख देशों में बच्चों के स्वास्थ्य की स्थिति का अवलोकन कर ये रिपोर्ट बनाई जाती है. इस रिपोर्ट को बनाने का काम द इंटरनेशनल फ़ूड पालिसी एंड रिसर्च इंस्टिट्यूट (IFPRI) करता है. इस रिपोर्ट से इस बात की जानकारी मिलती है कि किस देश के बच्चों को इस समय जीवन की मूलभूत आवश्यकता, भोजन को पाने में किस हद तक सक्षम या असक्षम हैं. इस जांच में चार मुख्य बातों पर देशों का आकलन किया जाता है- कुपोषण, शिशु मृत्यु दर, Child Wasting और Child Stunting.

‘गांधी की हत्या के लिए गोडसे को किसने भड़काया’

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned