बोफोर्स के बाद भारतीय सेना की ताकत में जबर्दस्त इजाफा, 'वज्र' करेगा दमदार प्रहार

बोफोर्स के बाद भारतीय सेना की ताकत में जबर्दस्त इजाफा, 'वज्र' करेगा दमदार प्रहार

Amit Kumar Bajpai | Publish: Nov, 09 2018 09:45:12 AM (IST) | Updated: Nov, 09 2018 11:45:51 AM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

भारतीय सेना शुक्रवार को और ज्यादा ताकतवर होने जा रही है। केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण आज K9 वज्र और M777 होवित्जर समेत नए टैंकों और उनके उपकरणों को तोपखाने में शामिल करने जा रही हैं।

नई दिल्ली। भारतीय सेना शुक्रवार को और ज्यादा ताकतवर होने जा रही है। केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण आज K9 वज्र और M777 होवित्जर समेत नए टैंकों और उनके उपकरणों को तोपखाने में शामिल करने जा रही हैं। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता के मुताबिक शुक्रवार को यह प्रक्रिया महाराष्ट्र के नासिक स्थित देवलाली तोपखाने में आयोजित समारोह के दौरान पूरी की जाएगी।

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल अमन आनंद ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि भारतीय सेना के तोपखाने में वर्ष 2020 तक 100 वज्र K9 तोपों को शामिल किया जाएगा। इनकी कीमत 4,366 करोड़ रुपये होगी। यह तोपें तीन चरणों में मिलेंगी। इनमें सबसे पहले नवंबर के अंत तक 10 तोपें, फिर अगले साल नवंबर तक 100 तोपें और नवंबर 2020 तक 50 तोपें शामिल होंगी।

 

तोप

यह K9 वज्र तोपें स्वदेशी हैं। इनकी पहली रेजीमेंट को पहली बार भारतीय निजी क्षेत्र तैयार कर रहा है। इतना ही नहीं यह पहली बार है कि देश में किसी तोप का निर्माण हो रहा है। उम्मीद है कि अगले साल जुलाई तक K9 वज्र की पूरी खेप बनकर तैयार हो जाएगी।

यह टैंक 28-38 किलोमीटर तक मारक क्षमता रखती है। इसकी खूबी यह है कि केवल 30 सेकेंड के भीतर ही यह लगातार तीन राउंड की गोलाबारी कर सकती है। जबकि तीन मिनट में 15 राउंड और 60 मिनट में बिना रुके 60 राउंड फायरिंग कर सकती है।

भारतीय सेना की ताकत बढ़ाने के लिए M777 होवित्जर तोपों को भी शामिल किया जा रहा है। सेना कुल 145 तोपों को शामिल करेगी। अगस्त 2019 तक भारतीय सेना में पांच तोपें शामिल हो जाएंगी। सारी तोपें दो साल में भारतीय सेना को मिलेंगी।

इनकी पहली रेजीमेंट अगले साल अक्टूबर में पूरी हो जाएगी। M777 होवित्जर तोपों की मारक क्षमता 30 किलोमीटर तक है और इन्हें हेलीकॉप्टरों या विमान के जरिये एक जगह से दूसरी जगह ले जाया जा सकता है।

शुक्रवार को होने वाले समारोह के दौरान 130MM और 155MM की तोपें ले जाने वाले कॉम्पैक्ट गन ट्रैक्टर को भी पेश किया जाएगा। यह ट्रैक्टर तोप को लेकर 80 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से भाग सकता है।

Ad Block is Banned