2040 तक भारतीय अर्थव्यवस्था के पांच गुणा होने की उम्मीद:मोदी 

मोदी ने ऊर्जा एवं गैस पर आधारित अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का विज्ञान भवन में उद्घाटन करते हुए कहा कि भविष्य में भी भारतीय अर्थव्यवस्था ऊर्जा का प्रमुख स्रोत बना रहेगा

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय अर्थव्यवस्था के विकास में हाइड्रोकार्बन की अहम भूमिका बताते हुए आज कहा कि 2040 तक भारतीय अर्थव्यवस्था के पांच गुणा हो जाने की उम्मीद है। मोदी ने ऊर्जा एवं गैस पर आधारित अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का विज्ञान भवन में उद्घाटन करते हुए कहा कि भविष्य में भी भारतीय अर्थव्यवस्था ऊर्जा का प्रमुख स्रोत बना रहेगा। 

उन्होंने कहा कि देश की नीतियां दीर्घकालिक विकास पर केंद्रित है और 2040 तक भारतीय अर्थव्यवस्था के पांच गुणा हो जाने की उम्मीद है। हाइड्रोकार्बन को देश की अर्थव्यवस्था के विकास में अहम बताते हुए मोदी ने कहा कि हमें आयात पर निर्भरता कम करने की जरूरत है और इसके लिये घरेलू तेल एवं गैस उत्पादन बढ़ाने पर जोर देना होगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में परिवहन और उड्डयन क्षेत्र में असीम बढ़ोत्तरी की संभावनाएं हैं। वर्ष 2034 तक देश उड्डयन के मामले में तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में उभरेगा। 

उन्होंने कहा कि हम गैस आधारित अर्थव्यवस्था की तरफ अग्रसर हैं। सरकार उत्सर्जन घटाने के लिये कटिबद्ध है। सरकार की उज्ज्वला योजना का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि इसके तहत सात माह में 1 करोड़ गैस कनेक्शन दिए जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि सरकार की छोटे तेल क्षेत्र की निलामी को काफी समर्थन मिला है। मोदी ने निवशकों को आमंत्रित करते हुये कहा कि भारत में लालफिताशाही का दौर खत्म हो चुका है और हम देश में निवेश करने वालों की सुविधा के लिये हर संभव कदम उठा रहे हैं। उसी का परिणाम है कि देश में प्रत्यक्ष विदेशी तेजी से बढ़ा है। उन्होंने कहा कि 2022 तक देश के सकल घरेलू उत्पाद में विनिर्माण क्षेत्र का योगदान एक चौथाई तक पहुंच जायेगा।
Narendra Modi
राकेश मिश्रा Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned