'समुद्र सेतु' के जरिए वापस आएंगे विदेश में फंसे भारतीय, 8 मई से शुरू होगी प्रक्रिया

Highlight

- भारतीय नौसेना ( Indian Navy ) ने समुद्र सेतु ( samudra setu ) अभियान शुरू किया है, जिसके तहत विदेशों से भारतीयों को लाया जाएगा

- 8 मई से शुरू होगी विदेशों से भारतीयों को लाने की प्रक्रिया

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( coronavirus ) की लड़ाई में 'आरोग्य सेतु' ( aarogya setu ) के बाद अब 'समुद्र सेतु' ( samudra setu ) का सहारा लिया जाएगा. लेकिन, यह कोई ऐप नहीं बल्कि भारतीय नौसेना द्वारा लॉन्च किया गया एक खास ऑपेरशन है। नौसेना इस ऑपरेशन के तहत विदेश में फंसे भारतीय नागरिकों को स्वदेश वापस लाएगी। समुद्र सेतु का अर्थ है समुद्री पुल। विदेश में फंसे नागरिकों को लाने के पहले चरण में नौसेना की मदद भी ली जा रही है।

8 मई को शुरू होगा निकासी अभियान

नौसेना के समुद्री जहाज 'जलश्वा' और 'मगर' इस वक्त मालदीव के माले पोर्ट के रास्ते में है। 8 मई को इनकी मदद से निकासी अभियान शुरू किया जाएगा। सरकार विदेश में फंसे अपने नागरिकों की स्थिति पर लगातार नजर बनाए हुए है। उन्हें वापस लाने के लिए उपयुक्त तैयारी करने के लिए नौसेना को खास निर्देश दिए गए हैं।

पहली बार में 1000 यात्री लौटेंगे देश

भारतीय मिशन इस वक्त मालदीव में नौसेना के जहाज से वापसी करने वाले नागरिकों की सूची तैयार कर रहा है। इनकी मेडिकल जांच के बाद उन्हें यात्रा करने की सुविधा दी जाएगी। पहली यात्रा के तहत 1000 भारतीय स्वदेश लौटेंगे। यह संख्या जहाजों पर उपलब्ध मेडिकल सेवाओं और कोविड से संबंधित सोशल डिस्टेंसिंग मानदंडों के मद्देनजर निर्धारित की गई है।

नौसेना जहाज में होंगी ये सुविधाएं

नौसेना के सभी जहाज इस ऑपरेशन के लिए खास सुविधाओं से लैस हैं। समुद्री यात्रा के दौरान लोगों को सामान्य और मेडिकल सुविधाएं दी जाएंगी। इसके अलावा यात्रा के लिए कुछ आवश्यक प्रोटोकॉल पालन करने का भी निर्देश दिया गया है।

केरल के कोच्चि में रखे जाएंगे यात्री

जहाज से स्वदेश लौटने के बाद सभी नागरिकों को केरल के कोच्चि में रखा जाएगा। यहां उनकी देखभाल राज्य के अधिकारी करेंगे। आपको बता दें कि यह ऑपेरशन रक्षा मंत्रालय, विदेश मंत्रालय, गृह मंत्रालय, स्वास्थ्य मंत्रालय और भारत सरकार की कई एजेंसियों और राज्य सरकारों के साथ मिलकर चलाया का रहा है।

coronavirus
Show More
Kapil Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned