Corona संकट के बीच Indian Railway का बड़ा फैसला, इन रूट को किया गया बंद, कई ट्रेनों पर असर

  • Bihar: बाढ़ (Flood) के कारण Indian Railway का बड़ा फैसला
  • समस्तीपुर ( Samastipur )-दरभंगा ( Darbhanga ) पर रूट पर ट्रेनों का परिचालन बंद

नई दिल्ली। एक तरफ पूरा देश कोरोना वायरस ( coronavirus in India ) की मार झेल रहा है। वहीं, दूसरी तरफ देश के कुछ हिस्सों में बाढ़ ( Flood ) का कहर जारी है। बाढ़ के कारण रेल नेटवर्क ( Rail Network ) पर भी बड़ा असर पड़ रहा है। खासकर, बिहार ( Flood in Bihar ) में रेलवे ट्रैक ( Railway Track ) डूबने के कारण कई ट्रेनों के रूट मे बदलाव किए गए हैं। वहीं, कुछ मार्गों पर यातायात पूरी तरह बंद कर दिया गया है।

बाढ़ के कारण ट्रेनों का परिचान बंद

दरअसल, बिहार के कुछ इलाके बाढ़ से पूरी तरह प्रभावित हो चुके हैं। इसके कारण समस्तीपुर-दरंभाग ( Samastipur-Darbhanga ) रूट पर ट्रेनों का परिचालन बंद हो गया है। बताया जा रहा है कि हायाघाट स्टेशन ( Hayaghat Station ) के पास पुल संख्या 16 पर कोसी नदी का पानी आ गया है, जिसके कारण ट्रेनों की आवाजाही बंद कर दी गई है। जानकारी के मुताबिक, अगले आदेश तक इस रूट पर ट्रेनों का परिचालन बंद रहेगा। इस रूट पर परिचालन रोकन के कारण कई ट्रेनों के रूट को डायवर्ट किया गया है। इसमें बिहार संपर्क क्रांत ट्रेन ( Bihar Sampark Kranti ) भी शामिल हैं। वहीं, कुछ ट्रेनों का समापन समस्तीपुर स्टेशन ( Samastipur Station ) पर किया गया है।

रूट किया गया डायवर्ट

रिपोर्ट के मुताबिक, दरभंगा ( Darbhanga to New Delhi ) से नई दिल्ली जाने वाली ट्रेन संख्या 02565 बिहार सम्पर्क क्रांति, जयनगर से अमृतसर ( Jaynagar to Amritsar ) जाने वाली सरयू यमुना एक्सप्रेस ( saryu yamuna express ), दरभंगा से लोकमान्य तिलक टर्मिनल पवन एक्सप्रेस ( Pawan Express ) को डायवर्ट कर दरभंगा से वाया सीतामढ़ी-मुजफ्फरपुर होकर अब चलाया जा रहा है। वहीं, बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस अब समस्तीपुर न जाकर मुजफ्फरपुर से डायवर्ट होकर वाया सीतामढ़ी सीधे दरभंगा जाएगी। रेलवे ने बताया कि 25 जुलाई से अगले आदेश तक बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस ट्रेनें वाया सीतामढ़ी से मुजफ्फरपुर होकर चलेगी। वहीं, पवन एक्सप्रेस और शहीद एक्सप्रेस का परिचालन समस्तीपुर स्टेशन से होगा।

10 जिले बाढ़ से प्रभावित

वहीं, रेलवे ( Indian Railway ) ने अपने आदेश में ये भी कहा है कि जो यात्री अपनी यात्रा रद्द करना चाहते हैं वे टिकट रिफंड करा सकते हैं। गौरतलब है कि बिहार में 10 जिलों में बाढ़ का कहर जारी है। तकरीबन आठ नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। इधर, गंगा में भी जलस्त बढ़ गया है। बताया जा रहा है कि बाढ़ (Flood in Bihar) के कारण लाखों लोग प्रभावित हुए हैं। वहीं, कई जगहों पर बाढ़ के पानी से पुल भी टूट गया है। जिसके कारण यातायात पर बड़ा असर पड़ रहा है। फिलहाल, सरकार ने बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत-बचाव कार्य शुरू कर दिया है। NDRF की टीम भी तैनात कर दी गई है। साथ ही प्रभावित लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पुहंचाया जा रहा है।

Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned