IRCTC स्कैम: लालू, राबड़ी और तेजस्वी समेत 14 लोगों पर चार्जशीट दाखिल

prashant jha

Publish: Apr, 16 2018 07:56:49 PM (IST) | Updated: Apr, 16 2018 08:01:44 PM (IST)

इंडिया की अन्‍य खबरें
IRCTC स्कैम: लालू, राबड़ी और तेजस्वी समेत 14 लोगों पर चार्जशीट दाखिल

10 अप्रैल को सीबीआई की टीम ने राबड़ी देवी सर्कुलर रोड स्थित आवास पर 4 घंटों से ज्यादा तक पूछताछ की थी और उनके घर की तलाशी ली थी।

नई दिल्ली: रेलवे टेंडर घोटाला मामले में राजद सुप्रीमो लालू यादव, पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, तेजस्वी यादव समेत 14 लोगों पर चार्जशीट दायर की गई है। CBI ने सभी आरोपियों पर चार्जशीट दाखिल की है। इससे पहले सीबीआई ने राबड़ी देवी के घर छापा मारा था । 10 अप्रैल को सीबीआई की टीम ने राबड़ी के आवास 10 सर्कुलर रोड पर राबड़ी और उनके बेटे तेजस्वी यादव 4 घंटों से ज्यादा तक पूछताछ की थी और उनके घर की तलाशी ली थी। गौरतलब है कि सीबीआई ने अपनी जांच में पाया था कि रेल मंत्री रहते हुए लालू यादव ने पद का दुरुपयोग किया और सुजाता होटल को गैरकानूनी तरीके से टेंडर जारी किया। इससे पहले पिछले साल 2017 में सीबीआई ने आरजेडी प्रमुख लालू यादव के पटना और दिल्ली सहित 12 ठिकानों पर एक साथ दबिश दी थी। लालू यादव के दिल्ली, पटना, रांची समेत कई ठिकानों पर की गई थी । गौरतलब है कि लालू यादव फिलहाल चारा घोटाले के मामले में दोषी करार दिए जाने के बाद जेल में हैं। चारा घोटाला के अलग अलग मामलों में लालू यादव पर 20 साल की सजा सुनाई गई है। पिछले दिनों तबीयत खराब होने के बाद लालू यादव को नई दिल्ली स्थित एम्स में भर्ती कराया गया है।

लालू पर रेल मंत्री रहते धांधली का आरोप

दरअसल रेल मंत्री रहते हुए लालू यादव पर दो होटलों से जुड़े ठेके देने में धांधली करने का आरोप है। साल 2006 में सीबीआई ने जांच में पाया कि सुजाता होटल को गैरकानूनी तरीके से टेंडर दिया गया। इस मामले में लालू यादव के अलावा उनकी पत्नी राबड़ी देवी, बेटे तेजस्वी यादव , लालू के सहयोगी प्रेमचंद गुप्ता की पत्नी सरला गुप्ता, विजय कोचर, विनय कोचर, पटना में सुजाता होटल्स के दोनों डॉयरेक्टर, डिलाईट मार्केटिंग कंपनी प्राइवेट लिमिटेड (लारा प्रोजेक्टस) आईआरसीटीसी के पूर्व एमडी सहित कई लोगों के ऊपर सीबीआई ने एफआईआर दर्ज की थी। इस मामले में सीबीआई ने तेजस्वी यादव को समन जारी किया था। इसी कड़ी में पूछताछ चल रही है।

Ad Block is Banned