Indian Railways: ट्रेनों के संचालन के लिए रेलवे तैयार कर रहा नया प्लान, यात्रियों को मिलेगा फायदा

-IRCTC Update: देशभर में कोरोना संकट ( Coronavirus ) के बीच भारतीय रेलवे ( Indian Railways ) स्पेशल ट्रेनों का संचालन कर रहा है।
-रेलवे ने ट्रेनों के टाइम टेबल ( Special Trains Time Table ) बदलने का फैसला किया है।
-कोरोना महामारी में जिन ट्रेनों का परिचालन बंद हो गया था, अब वह नये टाइम टेबल ( Indian Railways New Time Table ) के अनुसार शुरू होगी।
-रेलवे मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों के परिचालन के लिए एक जीरो-बेस्ड टाइम टेबल ( Zero-based Time Table ) तैयार कर रहा है।

नई दिल्ली।
IRCTC Update: देशभर में कोरोना संकट ( Coronavirus ) के बीच भारतीय रेलवे ( Indian Railways ) स्पेशल ट्रेनों का संचालन कर रहा है। इसी बीच अब रेलवे ने ट्रेनों के टाइम टेबल ( Special Trains Time Table ) बदलने का फैसला किया है, जिससे यात्रियों को भी फायदा होने वाला है। कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए रेलवे ट्रेनों के संचालन के लिए नया प्लान तैयार कर रहा है।

कोरोना महामारी में जिन ट्रेनों का परिचालन बंद हो गया था, अब वह नये टाइम टेबल ( Indian Railways New Time Table ) के अनुसार शुरू होगी। रेलवे मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों के परिचालन के लिए एक जीरो-बेस्ड टाइम टेबल ( Zero-based Time Table ) तैयार कर रहा है। इसके मुताबिक सभी यात्री ट्रेनों का शेड्यूल और उनकी फ्रीक्वेंसी फिर से तैयार होगी। माना जा रहा है कि इससे ट्रेन अपने गंतव्य स्टेशन तक निर्धारित समय पर पहुंच जाएगी।

Indian Railways: देश में दौड़ेगी 44 नई वंदे भारत ट्रेन, इन रूट पर होगा संचालन, जानिए पूरी ड‍िटेल

train_time_table_01.jpg

ट्रेनें नहीं होगी लेट
जानकारी के अनुसार रेलवे ट्रेवल टाइम को कम करने की योजना तैयार कर रहा है। इसके लिए वह मेल और कुछ एक्सप्रेस ट्रेनों के हॉल्ट को कम किया जा सकता है। ताकि इससे गंतव्य तक पहुंचने में ट्रेनों के यात्रा समय को कम किया जा सके। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव के मुताबिक कोरोना वायरस के कारण लागू किये गये लॉकडाउन के चलते इस नये फैसले को अमल में लाने में देरी हुई, पर अब इसे लागू कर दिया जायेगा। बता दें कि भारतीय रेलवे ने हाल ही में अपने सभी ट्रेनों को समय पर चलाने और पहुंचाने में 100 का लक्ष्य पूरा किया है।

देश में चलेंगी 44 प्राइवेट ट्रेनें
भारतीय रेलवे जल्द ही 44 नई वंदे भारत ट्रेनें ( 44 Vande Bharat Trains ) शुरू करने जा रहा है। भारतीय रेलवे ने 5 फीसदी ट्रेनों के निजीकरण करने का फैसला लिया है। वहीं, प्राइवेट ट्रेनों के लिए 12 कलस्टर्स का चयन किया गया है। इसमें पहले क्लस्टर्स में चंडीगढ़, बेंगलुरु, हावड़ा, मुम्बई और दूससे कलस्टर्स में पटना, प्रयागराज, सिकन्द्राबाद शामिल है। यह PPP मॉडल के तहत होगा और बाकी 95 फीसदी ट्रेनें रेलवे की तरफ से ही चलाई जाएंगी। बता दें कि दिल्ली कलस्टर 1 में 12 बोगी वाली 7 जोड़ी ट्रेनों का संचालन किया जाएगा। वहीं दिल्ली कलस्टर 2 में 6 जोड़ी ट्रेन दौड़ेगी। चेन्नई कलस्टर में 12 जोड़ी ट्रेनें चलेंगी, वहीं 13 जोड़ी ट्रेनें प्रयागराज कलस्टर से रवाना होगी।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned