Jammu Kashmir: जम्मू के सांबा जिले में मिले हथियार, ड्रोन से गिराए जाने की संभावना

Jammu and Kashmir: जम्मू संभाग के सांबा जिले में स्थानीय पुलिस द्वारा हथियारों को बरामद किया गया है। इस इलाके में ड्रोन गतिविधि देखी गई थी इसलिए कयास लगाए जा रहे हैं कि ड्रोन से ही हथियार गिराए गए हैं।

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर में पिछले कुछ महीनों से ड्रोन (Drone) गतिविधियां लागातार बढ़ रही हैं और सुरक्षाबलों को चुनौती पेश कर रही हैं। शुक्रवार को जम्मू संभाग के अंतर्गत आने वाले सांबा जिले के बाबर नाले के पास दो पिस्तौल, पांच मैगज़ीन और जिंदा कारतूस पाए गए हैं, जिन्हें बरामद कर लिया गया है। सुरक्षाबलों के मुताबिक गुरुवार रात को इसी इलाके में ड्रोन गतिविधि देखी गई थी, ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि ड्रोन के जरिये ही हथियार यहां गिराए गए हैं।

ड्रोन गतिविधि दिखने के बाद से ही पुलिस ने इस इलाके में तैनाती बढाते हुए तलाशी अभियान शुरु कर दिया था। इसी दौरान बाबर नाले के पास संदिग्ध वस्तु होने की सूचना मिली थी। जांच के दौरान वहां पांच मैगजीन, दो पिस्तौल, 122 कारतूस, एक खाली पाइप और पिठ्ठू बैग मिले, जिन्हें पुलिस द्वारा बरामद कर लिया गया। इसके बाद स्थानीय पुलिस और सेना की टीम ने तलाशी अभियान फिर से जारी कर दिया।

Jammu Kashmir: Drone dropped weapons in samba district

जम्मू कश्मीर को 5 अगस्त से ही हाई अलर्ट पर रख दिया गया है ताकि किसी भी गतिविधि का विशेष ध्यान रखा जाए। खुफिया एजेंसियों को मिले इनपुट के मुताबिक, आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जम्मू कश्मीर के किसी धार्मिक स्थल पर हमला करके साम्प्रदायिक हिंसा भड़काना चाहते हैं।

Read More: वीके सिंह ने संसद को दिया जवाब, अंतरराष्ट्रीय सीमा से 25 किलोमीटर के दायरे में ड्रोन उड़ाने की इजाजत नही होगी

जम्मू कश्मीर में हाई अलर्ट स्वतंत्रता दिवस को देखते हुए जारी किया गया है। सूत्रों के मुताबिक, स्वतंत्रता दिवस को ड्रोन हमला होने की संभावना है। इससे निपटने के लिए एंटी ड्रोन नीति काम करेगी, जिस पर बात करते हुए एडीजीपी मुकेश सिंह ने कहा था कि ड्रोन हमलों से निपटने के लिए पूरे बंदोबस्त किए गए हैं। फिलहाल तैयारी की जानकारी नहीं दी जा सकती लेकिन भीड़भाड़ वाले व महत्वपूर्ण इलाकों में एंटी ड्रोन सिस्टम लगा दिया गया है।

Read More: Jammu Kashmir: सेना को बड़ी कामयाबी, एनकाउंटर में लश्कर के दो आतंकी ढेर, अखनूर में मार गिराया ड्रोन

गौरतलब है कि पिछले कुछ महीनों में आतंकी संगठन ड्रोन से किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में है। जम्मू एयरबेस पर ड्रोन हमला होने के बाद से भारतीय एजेंसियां सक्रिय रूप से निपटने का काम कर रही हैं। 15 अगस्त तक जम्मू कश्मीर हाई अलर्ट पर रहने वाला है और बड़े स्तर पर तलाशी अभियान भी शुरू किया जा चुका है।

Ronak Bhaira
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned