JNU प्रशासन ने HRD मंत्रालय को भेजी रिपोर्ट, हिंसक घटना के बारे में दी डिटेल जानकारी

  • JNU में दूसरे दिन भी विवाद जारी
  • रविवार शाम को हमलावरों ने किया था हमला
  • हिंसा पर Delhi Police ने शुरू की जांच

नर्इ दिल्ली। जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में एक बार फिर बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। रविवार शाम को जेएनयू कैंपस के अंदर हुर्इ हिंसक घटना की दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है। वहीं जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी प्रशासन ने रविवार को कैंपस में हुर्इ हिंसक घटनाआें की डिटेल रिपोटर् HRD मंत्रालय को सौंप दी है। जेएनयू प्रशासन की इस रिपोर्ट में रविवार के पूरे घटनाक्रम का सिलसिलेवार तरीके से जिक्र किया है।

दिल्ली पुलिस ने JNU हिंसा की जांच शुरू कर दी है। दिल्ली पुलिस की टीम डीसीपी के नेतृत्व में यूनिवर्सिटी कैंपस पहुंची आैर मेन गेट पर ताला लगा दिया गया है। फिलहाल देश के कई हिस्सों में JNU के समर्थन में प्रदर्शन चल रहा है। JNU हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस के डीसीपी देवेंद्र आर्य का कहना है कि वसंतकुंज थाने में FIR दर्ज की गई है।

पब्लिक प्रॉपर्टी आैर दंगे के मामले में केस दर्ज किए गए हैं। उन्होंने कहा कि सभी तरीके से जांच की जा रही है। सोशल मीडिया पर जो भी वीडियो आ रहे हैं उनकी जांच हो रही है। जल्द ही हमलावरों की पहचान की जाएगी।

वहीं केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने जेएनयू में हिंसा की निंदा की है। उनका कहना है कि इस मामले की जांच होनी चाहिए। कांग्रेस, कम्युनिस्ट, AAP समेत अन्य विपक्षी पार्टियों ने देश की कई यूनिवर्सिटियों में हिंसा की स्थिति पैदा दी है।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने जेएनयू मामले में कहा कि इस मामले में जांच शुरू हो गई है। ऐसे में अभी बोलना ठीक नहीं होगा। लेकिन यूनिवर्सिटीज को राजनीति का अड्डा नहीं बनना चाहिए।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned