JNU छात्रों का हंगामा: वीसी जगदीश कुमार ने कहा- हिंसक व्यवहार करना जेएनयू के छात्रों से अपेक्षित नहीं

JNU छात्रों का हंगामा: वीसी जगदीश कुमार ने कहा- हिंसक व्यवहार करना जेएनयू के छात्रों से अपेक्षित नहीं

Anil Kumar | Publish: Mar, 26 2019 04:21:35 AM (IST) | Updated: Mar, 26 2019 09:11:46 AM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

  • जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार के आवास पर लेफ्ट वींग के छात्रों ने किया हंगामा।
  • हंगामे के दौरान वीसी जगदीश कुमार की पत्नी घर में अकेले मौजूद थीं।
  • वीसी ने ट्वीट करते हुए घटना की दी जानकारी।

नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में लेफ्ट विंग के छात्रों ने सोमवार शाम को वाइस चांसलर जगदीश कुमार के आवास पर जमकर हंगामा किया। छात्रों ने वीसी के घर में जबरदस्ती घुसने की कोशिश भी की, लेकिन सुरक्षा कर्मचािरियों ने उन्हें जाने से रोक दिया। इस घटना के फौरन बाद वीसी जगदीश कुमार ने एक ट्वीट करते हुए कहा कि उनके घर में तोड़फोड़ की गई और उनकी को बंधक बना लिया गया है। उन्होंने आगे कहा कि उनके आवास पर कुछ छात्रों ने हमला कर दिया। जिस वक्त यह सब हुआ उस दौरान मैं एक मीटिंग के लिए बाहर था। जब लगभग 5:45-6 बजे के आसपास वापस घर आया तो देखा कि हमारे घर के बाहर 400-500 छात्र इकट्ठे हैं। वे सुरक्षा गार्ड से धक्का-मुक्की कर रहे थे और गेट को तोड़ कर घर में घुस गए। उस दौरान मेरी पत्नी घर में अकेली थी। उन्होंने कहा कि आप इस बारे में कल्पना कर सकते हैं एक अकेली महिला घर में हो और 400-500 छात्र उसे घेरे हुए हों तो क्या स्थिति होगी। वह तीन घंटे या उससे भी ज्यादा देर तक घर में बंद थी। यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। वीसी कुमार ने कहा कि हम छात्रों के अधिकारों का सम्मान करते हैं, लेकिन गैरकानूनी साधनों का उपयोग करना और हिंसक तरीके से व्यवहार करना जेएनयू के छात्रों से अपेक्षित नहीं है। एक शिक्षक और जेएनयू का प्रमुख होने के नाते, मैं उन्हें माफ कर दूँगा। मुझे उम्मीद है कि वे खुद को सुधार लेंगे।

दिल्ली हाई कोर्ट ने JNU छात्रसंघ पर लगी पाबंदी हटाई, विश्वविद्यालय की बैठकों में ले सकेंगे हिस्सा

वीसी के घर तक मार्च निकालने का किया गया था आह्वान

दिल्ली पुलिस ने बताया कि कि आज लेफ्ट विंग के छात्रों ने के वीसी के घर तक मार्च निकालने का आह्वान किया गया था। मार्च के दौरान कुछ छात्र वापस होस्टल चले गए लेकिन कुछ छात्र उनके घर में घुसने की कोशिश करने लगे। हालांकि उन्हें सुरक्षा कर्मचारियों ने अंदर जाने से रोक दिया। पुलिस ने बताया कि अब तक अधिकांश छात्र अपने छात्रावास में वापस चले गए हैं। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में हैं। वहीं, जेएनयू के वीसी ने ट्वीट कर हंगामें की जानकारी दी। उन्होंने ट्वीट किया, 'आज शाम कुछ सौ छात्रों ने जबरन मेरे जेएनयू आवास में तोड़फोड़ की और अपनी पत्नी को कई घंटों तक घर के अंदर कैद रखा, मैं एक बैठक में था। उन्होंने आगे लिखा, 'क्या यह विरोध का तरीका है? घर में अकेली महिला काे डराना?

 

Read the Latest India news hindi on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले India news पत्रिका डॉट कॉम पर.

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned