अन्य देशों के साथ जल्द शुरू होंगे संयुक्त सैन्य अभ्यास, COVID-19 के चलते किए गए थे रद्द

  • दूसरे मित्र देशों के साथ संयुक्त सैन्य अभ्यास ( joint military exercise ), सशस्त्र बलों ( armed forces ) को करीब लाते हैं।
  • कोरोना वायरस महामारी ( Coronavirus Pandemic ) के चलते रद्द किए गए थे संयुक्त सैन्य अभ्यास।
  • सरकार फिर से सैन्य अभ्यास ( joint naval exercise ) शुरू किए जाने की बना रही है योजना।

 

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( COVID-19 ) जैसी आपदा की वजह से अन्य देशों के साथ संयुक्त सैन्य अभ्यास ( joint military exercise ) फिर से शुरू किए जाने का प्लान बनाया जा रहा है। हालांकि इस माहामारी ( Coronavirus Pandemic ) की वजह से सैन्य अभ्यास को टाल दिया गया था, लेकिन अब आसार नजर आ रहे है कि जल्द ही ये फिर से शुरू किया जा सकता है। संयुक्त सैन्य अभ्यास मित्र देशों के सशस्त्र बलों ( armed forces ) को एक-दूसरे के करीब लाते हैं, जिससे वे बेहतर ढंग से तैयार होते हैं। कोरोना की वजह से पिछले चार महीनों से ऐसा कोई कोई अभ्यास नहीं हुआ है।

एलएसी को लेकर भारत सरकार की चीन को दो टूक, एकतरफा कार्रवाई अस्वीकार्य और...

बता दें कि हिंद महासागर में भारत के साथ जापान संयुक्त सैन्य अभ्यास शुरू करने का इच्छुक है। जापान का चीन के साथ भी कुछ मतभेद चल रहा है। इस अभ्यास में जापान की सेल्फ डिफेंस फोर्स के दो से तीन युद्धपोत शामिल हो सकते हैं। सितंबर में अभ्यास शुरू होने की बात कही जा रही है।

चीन को मिलेगा माकूल जवाब, जिनपिंग की धमकी के जवाब में ताइवान ने शुरू किया सबसे बड़ा सैन्य अभ्यास

फ्रांस ने भी वरुण श्रृंखला के तहत संयुक्त नौसेना अभ्यासों ( india france joint military exercise ) को वापस शुरू करने में उत्सुकता व्यक्त की है। दोनों देशों की नौसेना का यह अभ्यास अरब सागर में हो सकता है। फ्रांस चाहता है कि भारत सामरिक रूप से एक यूरोपीय समुद्री जागरूकता परियोजना में हिस्सा ले और खाड़ी में हॉर्मुज क्षेत्र के अस्थिर जलडमरूमध्य में भी।

कोरोना से ज्यादा खतरनाक बीमारी पर 'सरकार' का नहीं ध्यान, हर साल 4.5 लाख की होती है मौत

इसके अलावा नवंबर में मालाबार एक्सरसाइज ( joint naval exercise ) होने की भी संभावना है। यह निश्चितरूप से संवेदनशील मामला है क्योंकि चीन जो फिलहाल लद्दाख में भारतीय सेना के साथ आंख-मिचौली कर रहा है, संयुक्त राज्य अमरीका के साथ शीत युद्ध की ओर बढ़ रहा हैं।

30 करोड़ डॉलर लगाने के बाद कोरोना वायरस वैक्सीन के इस्तेमाल को लेकर बिग गेट्स का बड़ा खुलासा

अब यह देखना होगा कि क्या मालाबार एक्सरसाइज की इस कड़ी में सिर्फ भारत, जापान और अमरीका शामिल होंगे या फिर ऑस्ट्रेलिया को भी इसमें शामिल किया जा सकता है। अगर ऑस्ट्रेलिया भाग लेता है, तो सभी चार देश मालाबार का हिस्सा होंगे। फिलहाल ऑस्ट्रेलिया की भागीदारी पर फैसला लिया जाना बाकी है।

COVID-19 Coronavirus Pandemic
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned