स्मॉग पर केजरीवाल-खट्टर के बीच सार्थक मुलाकात, प्रदूषण रोकने के लिए उठाएंगे कड़े कदम

prashant jha

Publish: Nov, 15 2017 04:15:16 (IST)

Miscellenous India
स्मॉग पर केजरीवाल-खट्टर के बीच सार्थक मुलाकात, प्रदूषण रोकने के लिए उठाएंगे कड़े कदम

प्रदूषण करने करने के लिए दिल्ली में रात में प्रवेश करने वाले ट्रकों पर भी पाबंदी लगाने की जरूरत है।

 

चंडीगढ़: दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण से चिंतित दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने चंडीगढ़ में मुलाकात की। बैठक के बाद एक संयुक्त प्रेस कांन्फ्रेस कर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया कि हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने प्रदूषण से निपटने के लिए हस संभव मदद का भरोसा दिया है। उन्होंने भरोसा दिया है कि प्रदूषण फैलाने वाली जैसी चीजों पर प्रतिबंध लगाने पर विचार करेंगे । हालांकि मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि सीमाएं भले ही अलग हैं लेकिन हवाओं पर किसी का कंट्रोल नहीं है। फिर भी प्रदूषण रोकने के लिए अहम कदम उठाए जाएंगे। खट्टर ने कहा कि प्रदूषण की समस्या सिर्फ दिल्ली की नहीं है। इससे कई अन्य राज्य भी प्रभावित हैं।

ट्रकों पर पाबंदी लगाने की जरूरत

हम इसे कम करने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे। हमनें राज्य में पुरानी गाड़ियों के पंजीकरण की जांच करने, गाड़ियों में सीएनजी लगाने और पराली जलाने से रोकने की कोशिश करेंगें ताकि प्रदूषण पर नियंत्रण पाया जा सके। प्रदूषण करने करने के लिए दिल्ली में रात में प्रवेश करने वाले ट्रकों पर भी पाबंदी लगाने की जरूरत है।

केजरीवाल ने मांगा था समय

गौरतलब है कि 7 नवंबर को दिल्ली में अचानक हुए मौसम परिर्वतन को लेकर दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को पत्र लिखकर मिलने का समय मांगा था। लेकिन अमरिंदर सिंह ने केजरीवाल से मुलाकात से साफ इनकार कर दिया था। दरअसल केजरीवाल ने आठ नवंबर को हरियाणा के सीएम को पत्र लिखा था। पहले तो हरिय़ाणा के मुख्यमंत्री ने भी मिलने से उनकार कर दिया था। लेकिन एनजीटी की फटकार के बाद खट्टर मुलाकात को तैयार हो गए।

केजरीवाल के साथ मिटिंग करने का कोई मतलब नहीं
केजरीवाल ने पराली से हो रहे प्रदूषण के मुद्दे पर चर्चा के लिए अमरिंदर से भी मुलाकात का समय मांगा था। लेकिन पंजाब के सीएम ने केजरीवाल से मुलाकात से साफ इनकार कर दिया। दरअसल, केजरीवाल ने कैप्टन को संबोधित ट्वीट में कहा था, 'कैप्टन अमरिंदर सर, मैं बुधवार को हरियाणा के सीएम से मिलने के लिए चंडीगढ़ आ रहा हूं। आपका आभारी रहूंगा अगर मुलाकात के लिए अपना थोड़ा वक्त दें। यह सामूहिक हित के लिए है।' केजरीवाल के अनुरोध पर अमरिंदर ने कहा कि वह समझ नहीं पा रहे हैं कि दिल्ली के मुख्यमंत्री जब जानते हैं कि इस तरह की चर्चा निरर्थक और बेकार है, तो क्यों इसमें जबरन हाथ डाल रहे हैं। कैप्टन ने कहा कि केजरीवाल को अच्छी तरह से पता है कि पराली मुद्दे पर उनके साथ बैठक करने का कोई नतीजा नहीं निकलना है। इसके बावजूद यह कहना मुश्किल है कि केजरीवाल इस मुद्दे में अपना हाथ क्यों काला करना चाह रहे है। कैप्टन ने कहा कि सड़क छाप राजनीतिक करने वाले अरविंद केजरीवाल इस मुद्दे पर दिल्ली सरकार की असफलता से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए यह राजनीतिक हथकंडा अपना रहे हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned