कोलकाता मेट्रो के दरवाजे में फंसने से बुजुर्ग की मौत, टीएमसी सांसद ने राज्य सभा में भेजा नोटिस

कोलकाता मेट्रो के दरवाजे में फंसने से बुजुर्ग की मौत, टीएमसी सांसद ने राज्य सभा में भेजा नोटिस

  • शनिवार को हुआ Kolkata Metro Death Case
  • TMC MP Shanta Chhetri ने मेट्रो दुर्घटना को लेकर RajyaSabha में दिया नोटिस
  • केंद्र पर लगाया Kolkata Metro की उपेक्षा का आरोप

नई दिल्ली। तृणमूल कांग्रेस सांसद शांता छेत्री ( TMC MP Shanta Chhetri ) ने राज्यसभा में कोलकाता मेट्रो ( Kolkata metro ) को लेकर शून्यकाल का नोटिस दिया है। इस नोटिस में उन्होंने 'मेट्रो रेल दुर्घटना और केंद्र की मेट्रो रेल कोलकाता द्वारा उपेक्षा' का मुद्दा उठाया है। बता दें कि शनिवार शाम पहली बार कोलकाता मेट्रो में एक यात्री की मौत ( Kolkata Metro Death Case ) की खबर सामने आई थी।

यह भी पढ़ें-कर्नाटक संकटः कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार को भरोसा, बागी विधायक मानेंगे और सरकार बचाएंगे

कैसे हुआ हादसा

दरअसल, कोलकाता के पार्क स्ट्रीट स्टेशन पर एक बुजुर्ग यात्री का हाथ दरवाजे में फंस गया था। इस दौरान ट्रेन उन्हें आगे लेकर बढ़ गई।

इसके चलते बुजुर्ग की मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक, जिस ट्रेन में यह हादसा हुआ वह मेट्रो ट्रेन दमदम से गरिया की ओर जा रही थी।

मेट्रो ट्रेन का गेट किसी वजह से बंद नहीं हुआ था। इस दौरान 66 वर्षीय सजल कुमार कांजीलाल को तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

वहीं, बुजुर्ग यात्री की मौत पर ( Kolkata Metro Death Case ) कोलकाता मेट्रो के जनरल मैनेजर ने उच्‍च स्‍तरीय जांच के आदेश दे दिए हैं।

इस घटना के बाद पार्क स्‍ट्रीट स्‍टेशन पर मेट्रो सर्विस को रोक दिया गया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सेंसर से लैस मेट्रो ट्रेन का दरवाजे में कुछ खराबी थी, जिसकी वजह से यह हादसा हुआ।

Kolkata metro

यह भी पढ़ें-VIDEO: संसद परिसर में चला स्वच्छता अभियान, सांसदों ने लगाई झाड़ू

पहले भी हो चुकी है इस तरह की घटना

गौरतलब है कि Kolkata Metro Death Case तरह की ये कोई पहली घटना नहीं है। इससे पहले दिल्ली मेट्रो ( Delhi Metro ) से भी इस तरह की कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं।

कभी किसी के कपड़े मेट्रो में फंस जाते हैं तो कभी कोई ट्रैक पर कूद कर आत्महत्या की कोशिश करता है।

बीते 15 मई को कौशाम्बी मेट्रो स्टेशन पर एक शख्स के कूदने का मामला सामने आया था। हालांकि शख्स की जान बच गई थी। लेकिन उसे बचाने में समय लगने की वजह से दिल्ली मेट्रो की सेवाएं बाधित हुई थीं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned