छप्पर फाड़ के: मुफलिसी से जूझता मजदूर रातोंरात बना करोड़पति, उधार से खरीदी थी लॉटरी

छप्पर फाड़ के: मुफलिसी से जूझता मजदूर रातोंरात बना करोड़पति, उधार से खरीदी थी लॉटरी

Saif Ur Rehman | Publish: Sep, 06 2018 11:42:49 AM (IST) | Updated: Sep, 06 2018 11:52:52 AM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

मनोज ने कहा है कि ये किसी सपने से कम नहीं है

पंजाब। देने वाला जब भी देता देता छप्पर फाड़ के...यह गाना मशहूर फिल्म हेराफेरी का है। गाना पंजाब के एक मजदूर पर सटीक बैठता है क्योंकि मुफलिसी से जूझता एक शख्स एकदम से अमीर बना गया। रातोंरात अमीर बने इस शख्स की खुशी का ठिकाना नहीं है। खबर पंजाब के संगरूर जिले की है। मनोज कुमार नामक व्यक्ति लॉटरी जीतने के कारण करोड़पति बना है। उसने डेढ़ करोड़ रुपए जीते हैं।

वीडियो: भाजपा सांसद सुब्रह्मण्‍यम स्‍वामी बोले, पंचायत चुनाव का अनुच्छेद 35ए से कोई लिंक नहीं

उधार के पैसों से खरीदी थी लॉटरी

खबरों के मुताबिक जिस मनोज नाम की शख्स ने डेढ़ करोड़ की दौलत जीती है उसने वह लॉटरी उधार के दौ सो रुपए से खरीदी थी। दरअसल मनोज कुमार ने पंजाब राज्य राखी बंपर 2019 की एक प्रतियोगिता में भाग लिया ता और लॉटरी का टिकट खरीदा था। इस प्रतियोगिता के लकी ड्रॉ से विजेता घोषित करना था। किस्मत के धनी मनोज ने कुमार को लकी ड्रॉ में पहला नंबर आया। इनाम जीतने के पास विजेता ने अपनी रकम का दावा पेश किया है। ये प्रतियोगिता का आयोजन 29 अगस्त को हुआ था। मनोज के साथ ही एक और व्यक्ति ने भी डेढ़ करोड़ रुपए की लॉटरी जीती है। इनाम जितने की खबर मिलते ही मनोज कुमार विभाग के डायरेक्टर टीपीएस फुलका से मिले और अपना दावा पेश किया। निदेशक ने कहा कि इनाम की राशि जल्द से जल्द मुहैया कराई जाएगी।

शहीदों के परिवार को आर्थिक मदद देने के लिए बना 'भारत के वीर' ट्रस्ट, अक्षय कुमार समेत सात लोग बने ट्रस्टी

'बेटियों की शादी करूंगा धूमधाम से'

इनाम जीतने के बाद मनोज कुमार ने कहा है कि इनाम जीतना किसी ख्वाब से कम नहीं है। मनोज ने कहा, 'मैंने उधार लेकर लॉटरी की टिकट खरीदी था। डेढ़ करोड़ रुपए जीतना मेरे लिए किसी सपने से कम नहीं'। विजेता की चार बेटियां भी हैं। उन्होंने बताया कि मेरी सबसे बड़ी चिंता चारों बेटियों की पढ़ाई लिखाई और उनकी शादी की थी। इन पैसों से मैं अपनी बेटियों को पढ़ाऊंगा और उनकी धूमधाम से शादी करूंगा।

Ad Block is Banned