ट्रैक्टर परेड: हिंसा में शामिल जिस लक्खा को पुलिस ढूंढ रही है, वो फेसबुक पर लाइव वीडियो बना रहा है

  • लाल किले पर तिरंगे के अपमान के मुख्य आरोपी लक्खा सिधाना को दिल्ली पुलिस ढ़ूढ़ रही है
  • एक दौर में अपराध की दुनिया में सिधाना का बड़ा नाम हुआ करता था लेकिन बाद में वह राजनीति में आया गया

नई दिल्ली। कृषि कानूनों के विरोध दिल्ली में किसानोंं द्वारा निकाले गए ट्रैक्टर मार्च में हिंसक रूप ले लिया। राजधानी के कई इलाकों में किसानों और पुलिस बल के बीच संघर्ष की स्थित पैदा हो गई। किसान और पुलिस के बीच इस टकराव में कई जवान और किसान गंभीर रूप से घायल हो गए। इस घटना के बाद पुलिस ने इस हिंसा के लिए कई किसानों नेताओं पर F.I.R दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

ट्रैक्टर परेड में हिंसा को लेकर एक और जनहित याचिका दायर, दिल्ली पुलिस पर कार्रवाई की मांग

मिली जानकारी के मुताबिक, लाल किले पर तिरंगे के अपमान के मुख्य आरोपी लक्खा सिधाना को दिल्ली पुलिस ढ़ूढ़ रही है। लेकिन वो खुलेआम फेसबुक वीडियो बना रहा है।गुरुवार को लक्खा सिधाना ने किसान आंदोलन से लाइव होकर पंजाबियों से इस आंदोलन को बचाने की अपील भी की है। फेसबुक पर लाइव वीडियो बनाते हुए उसने कहा सरकार इस आंदोलन को खत्म करने पर तुली है। जो हुआ उसे छोड़ो, सभी लोग आंदोलन पर ध्यान दो।

उसने आगे कहा कि जब भी हम सरकार के खिलाफ ऐसे बड़े संघर्ष करते हैं तो ऐसी साजिशें होती रही हैं। यह समय किसने क्या किया, यह देखने का नहीं है। अभी एकजुट होने का समय है, ताकि आंदोलन को बचाया जा सके। लक्खा ने आगे कहा कि लोग हमें गद्दार कह रहे हैं। वे चाहे तो हमपर कोई इल्जाम लगा दे लेकिन यह आंदोलन जारी रहेगा। इसे जीतने के बाद चाहे उसके माथे पर गद्दार लिख देना।

Tractor Parade: दिल्ली में हिंसा के बाद पंजाब और हरियाणा में हाई अलर्ट, राजधानी में बढ़ाई गई सुरक्षा

बता दें कि लक्खा सिधाना पंजाब का रहने वाला है। लक्खा का असली नाम लखबीर सिंह है। एक दौर में अपराध की दुनिया में सिधाना का बड़ा नाम हुआ करता था लेकिन बाद में वह राजनीति में आया गया। वो शुरूआत से ही किसान आंदोलन के साथ जुड़ा हुआ है।

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned