आयकर विभाग का आदेश- लालू की बेटी-दामाद की जब्त होगी संपत्ति

आयकर विभाग ने यह आदेश बेनामी संपत्ति मामले में दिया है। दिल्ली और पटना की जब्त की जाने वाली संपत्तियों का मौजूदा बाजार भाव 165 करोड़ रुपए के करीब है।

By:

Updated: 11 Sep 2017, 08:37 PM IST

नई दिल्ली: राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार की मुसीबतें खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। रेलवे होटल टेंडर घोटाला मामले में सीबीआई नोटिस के बाद अब आयकर विभाग ने उनकी बेटी मीसा भारती और दामाद शैलेश कुमार के दिल्ली के फार्महाउस के फाइनल अटैचमैंट का आदेश दिया है। आयकर विभाग ने यह आदेश बेनामी संपत्ति के मामले में दिया है।


दिल्ली और पटना की जब्त की जाने वाली संपत्तियों का मौजूदा बाजार भाव 165 करोड़ रुपए के आसपास बताया जा रहा है। इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय ने इस फार्म हाउस को अटैच कर लिया था। बता दें कि यह फार्म हाउस मेसर्स मिशैल पैकर्स ऐंड प्रिंटर्स प्राइवेट लिमिटेड के नाम पर है। इसे 2008-09 में करीब सवा करोड़ रुपए में खरीदा गया था। इसके अलावा दानापुर के 12 प्लाट और पटना की संपत्ति जब्त करने के भी आदेश दिए थे।

निष्क्रियता का स्मारक' बन गई है केंद्र सरकार: लालू
राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद ने सोमवार को देश में बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी के मुद्दे पर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्रनरेंद्र मोदी की सरकार को 'निष्क्रियता का स्मारक' बताया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री लालू प्रसाद ने केंद्र सरकार पर महंगाई और बेरोजगारी बढ़ाने का आरोप लगाते हुए ट्वीट किया कि देश बेतहाशा महंगाई, बेरोजगारी के साथ ही कई तरह के आर्थिक एवं सामाजिक संकट से जूझ रहा है। मोदी सरकार निष्क्रियता का एक स्मारक बन गई है।

एक अन्य ट्वीट में राजद अध्यक्ष ने सृजन घोटाले को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए लिखा कि सृजन घोटाले में जेल जाने के डर से नीतीश कुमार महागठबंधन तोड़कर भारतीय जनता पार्टी की शरण में चले गए। भाजपा भूली नहीं है कि नीतीश ने भाजपा को लात क्यों मारी थी?

लालू ने नीतीश को सबसे बड़ा भ्रष्टाचारी बताते हुए एक अन्य ट्वीट में लिखा कि सबसे बड़ा भ्रष्टाचारी तो नीतीश है। 13 साल से सृजन घोटाला इसकी 'नाक का बाल' रहा और पता भी नहीं चला। उल्लेखनीय है कि लालू इन दिनों ट्विटर के जरिए लगातार केंद्र और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साध रहे हैं।

income tax
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned