Lockdown 4.0: 31 मई तक लॉकडाउन बढ़ने की संभावना, शर्तों के साथ मॉल और दुकानें खोलने पर मिल सकती है छूट

  • Lockdown 4.0 Relaxation : नाई और अन्य दुकानों को खोलने के साथ ट्रांसपोर्टेशन में मिल सकती है छूट
  • गृह मंत्री अमित शाह ने मंत्रियों के साथ 5 घंटे तक बैठक कर किया विचार-विमर्श

By: Soma Roy

Published: 16 May 2020, 02:09 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (Coronavirus Pandemic) के प्रकोप से बचाने के लिए देशभर में लॉकडाउन (Lockdown) जारी है। 17 मई को लॉकडाउन का तीसरा चरण खत्म हो जाएगा। संक्रमण के खतरे को देखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 18 मई से लॉकडाउन 4.0 की शुरुआत के संकेत दिए हैं, जो 31 मई तक जारी रह सकता है। मगर इसी दौरान कुछ क्षेत्रों में ढील दिए जाने की भी बात भी कही गई है। इस सिलसिले में गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने एक बैठक भी की। जिसमें ग्रीन जोन को पूरी तरह से छूट दिए जाने पर बातचीत की गई। तो लॉकडाउन के चौथे चरण में किस तरह दिखेगा बदलाव का नया रंग आइए जानते हैं।

राज्यों पर होगी जिम्मेदारी
किसी राज्य में क्या खोला जाए और क्या बंद रखा जाए इसके लिए पीएम मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों (State Government) से सुझाव मांगे थे। इसके तहत राज्य सरकारों को आर्थिक गतिविधियों के लिए दुकानों या आवश्यक चीजों को खोलने या बंद करने का अधिकार होगा। राज्य में स्कूल, कालेज, मॉल और सिनेमा हॉल समेत अन्य चीजें शर्तों के साथ खुल सकती हैं।

ग्रीन जोन को हरी झंडी
गृहमंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को करीब पांच घंटे तक अधिकारियों के साथ बैठक की।इस दौरान ग्रीन जोन को पूरी तरह से खोले जाने पर सहमति बनी है। जबकि ऑरेंज जोन में पाबंदियां बेहद कम होंगी। सख्ती सिर्फ कंटेनमेंट जोन तक सीमित रहेगी।

कंफर्म टिकट कैंसल होने पर भी मिलेगा पूरा रिफंड, जानें प्रक्रिया

ऑड-ईवन फॉर्मूला हो सकता है लागू
22 मार्च से लगातार लॉकडाउन के चलते उद्यमियों को काफी नुकसान हो रहा है। इसलिएमाना जा रहा है कि दुकानें खोलने के लिए ऑड-ईवन फॉर्मूला लागू किया जा सकता है। ई-कॉमर्स कंपनियों को रेड जोन में भी गैर जरूरी सामान की डिलीवरी करने की छूट मिल सकती है। हालांकि कंटेनमेंट जोन में सख्ती बरकरार रह सकती हैं

ट्रांसपोर्टेशन सेवा बहाली पर विचार
लोगों को आने-जाने की दिक्कत न हो इसके लिए लोकल ट्रेन, बस और मेट्रो को चलाए जाने पर विचार किया जा रहा है। दिल्ली मेट्रो ने इसके लिए अलग से सफाई स्टॉफ की नियुक्ति भी कर ली है। इसके अलावा टैक्सी और ई—रिक्शा सेवा भी शुरू हो सकती है। ग्रीन और औरेंज जोन के अलावा रेड जोन में भी सोशल डिस्टेंसिंग और लोगों की तय संख्या में ऑटो चलाने जाने पर छूट दी जा सकती है। ऑटो रिक्शा और कैब एग्रीगेटरों को शर्तों के मुताबिक अधिकतम 2 यात्रियों को बैठाने की अनुमति दी जा सकती है।

घरेलू उड़ान सेवा को भी मंजूरी
अर्थव्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए घरेलू उड़ानों को भी मंजूरी दी जा सकती है। हालांकि फ्लाइट एक जगह से तय जगह के लिए ही उड़ान भरेगी। इसके स्टॉपेज लिमिटेड या न के बराबर होंगे। एयर इंडिया ने इसके लिए बुकिंग भी शुरू कर रहा है।

Amit Shah
Show More
Soma Roy
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned