महाराष्ट्र एटीएस ने सनातन संस्था से जुड़े वैभव राउत को किया गिरफ्तार, छापे में आठ देसी बम बरामद

महाराष्ट्र एटीएस ने सनातन संस्था से जुड़े वैभव राउत को किया गिरफ्तार, छापे में आठ देसी बम बरामद

घर से थोड़ी ही दूरी पर मौजूद उनकी दुकान से बम बनाने का सामान मिलने की भी ख़बर है जिसमें गन पावडर और डेटोनेटर भी बताया जा रहा है

मुंबई। मुंबई के करीब नालासोपारा में महाराष्ट्र एटीएस ने सनातन संस्था से संबंध रखने वाले एक पदाधिकारी वैभव राउत को गिरफ़्तार कर लिया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार वैभव राउत के घर से आठ देसी बम मिले हैं। घर से थोड़ी ही दूरी पर मौजूद उनकी दुकान से बम बनाने का सामान मिलने की भी ख़बर है जिसमें गन पावडर और डेटोनेटर भी बताया जा रहा है। पुलिस उनके घर की तलाशी ले रही है। इसके साथ घर के आसपास के इलाकों की भी तलाश जारी है। रिश्तेदारों का कहना है कि उन्हें फंसाने का प्रयास किया जा रहा है। उनका कहना कि वैभव इस तरह की गतिविधियों में शामिल नहीं हो सकता है। उसे किसी ने साजिश के तहत फंसाया जा रहा है। इस घटना को लेकर जांच टीम उनके करीबियों से पूछताछ कर रही है।

नेहरू-जिन्ना विवाद को लेकर दिए अपने बयान पर दलाई लामा ने मांगी माफी, कांग्रेस ने जताई थी कड़ी आपत्ति
गिरफ़्तारी को मालेगांव पार्ट-2 बताया

अब तक इस बारे में एटीएस की ओर से आधिकारिक रूप से कोई जानकारी नहीं दी गई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बीते कुछ दिनों से एटीएस लगातार वैभव को ट्रैक कर रही थी। इधर हिंदू जनजागृति समिति ने वैभव राउत की गिरफ़्तारी को मालेगांव पार्ट-2 बताया है। उन्होंने वैभव को फंसाने का आरोप लगाया है।

अभी तक परिवार को कोई सूचना नहीं दी

वैभव राउत के वकील संजीव पुनालेकर का कहना है कि एटीएस ने अभी तक परिवार को कोई सूचना नहीं दी है और न ही कोई पंचनामा नहीं किया गया। कानूनी सहायता मिलना उसका हक है। लेकिन उसे वंचित किया जा रहा है। वैभव गो वंश रक्षा के लिए काम करते हैं। हिन्दू जनजागृति समिति के सम्मेलन में शामिल होता था। सनातन में वह किसी पद पर नहीं था। ये फसाने की साजिश है, मालेगांव पार्ट 2 है।

Ad Block is Banned