मनोहर पर्रिकर के निधन पर देश में शोक: पीएम मोदी बोले- वे आधुनिक गोवा के निर्माता थे

  • सीएम मनोहर पर्रिकर के निधन पर एक दिन का राष्ट्रीय शोक
  • कैंसर से लड़ते हुए 63 साल की उम्र में ली अंतिम सांस
  • आखिरी दम तक लोगों में भरते रहे जुनून

नई दिल्ली। गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने दुनिया को अलविदा कह दिया है। पैंक्रियाटिक कैंसर से जूझते हुए 63 साल की उम्र में उनका निधन हो गया। तीन बार गोवा के मुख्यमंत्री रहे पर्रिकर के निधन से गोवा ही नहीं पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गई। अपने सादगी और मृदुभाषी स्वभाव की वजह से हर आंख उन्हें याद कर नम है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा है कि पर्रिकर आधुनिक गोवा के निर्मता थे।

VIDEO: जब मनोहर पर्रिकर ने पूछा... How's the Josh

प्रधानमंत्री ने ट्विटर पर पर्रिकर के साथ ही एक पुरानी तस्वीर शेयर की है। उन्होंन इसके साथ लिखा कि श्री मनोहर पर्रिकर एक अद्वितीय नेता थे। एक सच्चे देशभक्त और असाधारण प्रशासक। वह सभी की प्रशंसा करते थे। राष्ट्र के प्रति उनकी सेवा को पीढ़ियों तक याद रखा जाएगा। उनके निधन से गहरा दुख हुआ। उनके परिवार और समर्थकों के प्रति संवेदना। ओम शांति

वहीं एक अन्य ट्वीट में पीएम ने लिखा कि मनोहर पर्रिकर आधुनिक गोवा के निर्माता थे। अपने मिलनसार व्यक्तित्व और सुलभ स्वभाव की बदौलत वे वर्षों तक राज्य के पसंदीदा नेता बने रहे। उनकी जन-समर्थक नीतियों ने गोवा को प्रगति को उल्लेखनीय ऊंचाइयों तक पहुंचाया है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मनोहर पर्रिकर के निधन पर दुख जताया। उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि गोवा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर पर्रिकर जी के निधन की खबर सुनकर मुझे गहरा दुख हुआ। उन्होंने एक साल से अधिक समय तक एक खतरनाक बीमारी से बहादुरी से लड़ाई लड़ी। सभी पार्टियों के प्रिय और सम्मानित वह गोवा के एक प्रिय सपूत थे। इस शोक की घड़ी में उनके परिवार के प्रति मेरी शोक संवेदना

रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने ट्वीट किया, 'श्री मनोहर पर्रिकर नहीं रहे। एक बुद्धिमान, ईमानदार और संवेदनशील राजनीतिक कार्यकर्ता। सरल और जमीनी थे, मैंने श्री पर्रिकर से काफी कुछ सीखा। रक्षामंत्री के रूप में सशस्त्र बलों को एक आधुनिक, चुस्त-दुरुस्त लड़ाकू मशीन बनाने में उनका योगदान अद्वितीय बना रहेगा।'

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, 'श्री मनोहर पर्रिकर के शोक संतप्त परिवार के प्रति मेरी शोक संवेदना। मैं उनसे सिर्फ एक बार मिली थी, जब दो साल पहले वह अस्पताल में मेरी मां से मिलने आए थे। उनकी आत्मा को शांति मिले।'

Narendra Modi
Show More
Chandra Prakash Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned