पंजाब समेत कई राज्यों ने एक मई से होने वाले वैक्सीनेशन पर जताई आशंका, कहा- 15 मई तक संभव नहीं

कोविशील्ड वैक्सीन बनाने वाली कंपनी सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया ने कहा है कि उसकी ओर से 15 मई से पहले सप्लाई नहीं की हो सकती है।

नई दिल्ली। एक मई से 18 साल और उससे अधिक आयु के लिए शुरू होने वाले वैक्सीनेशन प्रग्रोम को लेकर कई राज्यों ने आशंका व्यक्त की है। उनका कहना है कि एक मई से इस अभियान को शुरू करना मुमकिन नहीं है। इस मामले में राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा का कहना है कि वैक्सीन का स्टाॅक खत्म है। कोविशील्ड वैक्सीन बनाने वाली कंपनी सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया ने कहा है कि उसकी ओर से 15 मई से पहले सप्लाई नहीं की हो सकती है।

Read More: दावा: कोरोना वायरस का दोहरा और तिहरा स्वरूप एक जैसा, दोनों टीके भी उन पर प्रभावी

राजस्थान के हेल्थ मिनिस्टर रघु शर्मा के अनुसार सीरम इंस्टिट्यूट से बात करने पर पत चला है कि हमें केंद्र सरकार से जो ऑर्डर मिले हैं, उनकी सप्लाई के लिए 15 मई तक का समय लग जाएगा। ऐसे में तब तक वे हमें वैक्सीन देने की स्थिति में नहीं हैं।

जल्द से जल्द से सप्लाई करें वैक्सीन

रघु शर्मा के अनुसार ऐसे में सवाल यह उठता है कि यदि राज्य सरकारें सीधे तौर पर वैक्सीन की खरीदना चाहती हैं तो फिर उसकी प्रक्रिया क्या होगी। इस केंद्र सरकार को फैसला करना चाहिए। उनके सामने सवाल है कि राजस्थान में 3.13 करोड़ लोग 18 से 45 वर्ष के आयु वर्ग में हैं। मगर हम इन लोगों का वैक्सीनेशन कैसे कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को सीरम इंस्टिट्यूट और भारत बायोटेक को आदेश देना चाहिए। वह राज्यों को वैक्सीन की जल्द से जल्द से सप्लाई करें। इसके साथ रेट को लेकर भी उन्होंने कहा कि वे कीमत अदा करने को तैयार हैं। मगर सभी के लिए एक ही रेट होना चाहिए।

Read More: Karnataka: प्रदेश में Lockdown को लेकर फैसला आज, सीएम येदियुरप्पा ने बुलाई कैबिनेट मीटिंग

वैक्सीन के स्टॉक की किल्लत

राजस्थान के साथ छत्तीसगढ़, पंजाब और झारखंड का भी कहना है कि उनके यहां वैक्सीन के स्टॉक की किल्लत देखने को मिल रही है। राजस्थान, छत्तीसगढ़, पंजाब में कांग्रेस का शासन है। वहीं झारखंड में झामुमो के साथ कांग्रेस भी सत्ता में है। छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव और पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने रघु शर्मा के बयान पर सहति दर्ज कराई है।

Coronavirus in india
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned