Mehbooba Mufti की बेटी बोलीं- 370 हटाने से खत्म नहीं होगा आतंकवाद, 5 अगस्त को बताया काला दिन

  • Jammu Kashmir Ex CM Mehbooba Mufti की बेटी Ilteja का बड़ा बयान
  • इल्तिजा ने कहा आर्टिकल 370 हटाने से खत्म नहीं होगा आतंकवाद, वसीम बारी की हत्या इसका बड़ा सबूत
  • 5 August को जम्मू-कश्मीर के लिए एतिहासिक नहीं बल्कि काला दिवस बताया

नई दिल्ली। जैसे-जैसे पांच अगस्त का दिन नजदीक आ रहा है। वैसे-वैसे जम्मू-कश्मीर ( Jammu Kashmir ) में सियासी पारा हाई हो रहा है। दरअसल इसी तरह जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 ( Article 370 ) को खत्म किया गया है। यही वजह है कि इस दिन को लेकर राजनीतिक माहौल भी फिर गर्माया है। अब जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी नेता ( PDP Leader ) महबूबा मुफ्ती ( Mehbooba Mufti ) की बेटी ने बड़ा बयान दिया है।

मुफ्ती की बेटी इल्तिजा ( Ilteja ) ने 5 अगस्त को काला दिन बताया है। इल्तिजा ने कहा है कि घाटी में लगातार डर और खौफ का माहौल बनाया जा रहा है। यहां पर ना तो बोलने की आजादी है और ना ही कुछ करने की। इल्तिजा का बयान ऐसे वक्त पर आया है जब एक दिन पहले ही उनकी मां और पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती की हिरासत को तीन महीने के लिए बढ़ा दिया गया है।

अगस्त महीने में नहीं होगा इन ट्रेनों का संचालन, भारतीय रेलवे ने कुछ ट्रेनों के शेड्यूल भी बदले, देखें पूरी सूची

महबूबा मुफ्ती की बेटी इल्तिजा ने एक निजी चैनल से बताचीत में जम्मू-कश्मीर के इतिहास में पांच अगस्त को काला दिन करार दिया है। उन्होंने कहा कि इस दिन को किस आधार पर हम ऐतिहासिक दिन मानें। मेरी मां को कैद कर के रखा गया है। दरअसल इसके पीछे गृहमंत्रालय की खास मंशा है।

वे लोग मेरी मांग को नजीर बनाना चाहते हैं। कि जम्मू-कश्मीर को लेकर बोलने वाले को ऐसी ही सजा दी जाएगी।

अब बाइक या स्कूटर पर पहना लोकल हेलमेट तो लगेगा तगड़ा जुर्माना, जानें नए कानून में किन बातों पर रहेगी नजर

संघर्ष की जरूरत पर दिया जोर
महबूबा की बेटी ने इल्तिजा में जम्मू-कश्मीर के हालातों पर चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा कि यहां पर लगातार डर का माहौल बनाया जा रहा है।

किसी को भी कुछ भी बोलने की इजाजत नहीं है। तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों को कैद किया गया। मेरी मां अब तक हिरासत में है। इस खौफ वाले माहौल में सामूहिक संघर्ष की जरूरत है। यहां पर अब कोई भी आजाद नहीं है।

370 हटाने से आतंकवाद खत्म नहीं होगा
इल्तिजा ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 को हटाने भर से ही आतंकवाद खत्म नहीं होगा। बीजेपी विधायक वसीम बारी की हत्या इस बात का सबूत है।

आपको बता दें कि इल्तिजा की मां और पूर्व सीएम वर्ष 2019 में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के वक्त से ही हिरासत में हैं। कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे के बीच हाल में मुफ्ती को उनके निवास में ही नजरबंद किया गया है। शुक्रवार को ही उनके नजरबंदी की अवधि को तीन महीने और बढ़ा दिया गया है।

Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned