बेटी की ख्वाहिश को पिता ने रखा सर आंखों पर और कर डाला कुछ ऐसा कि दुनिया ने भी माना लोहा

Arijita Sen

Publish: Mar, 14 2018 02:58:09 PM (IST) | Updated: Mar, 14 2018 03:14:35 PM (IST)

इंडिया की अन्‍य खबरें
बेटी की ख्वाहिश को पिता ने रखा सर आंखों पर और कर डाला कुछ ऐसा कि दुनिया ने भी माना लोहा

अपनी बच्ची के लिए इस छोटे प्रेस को बनाने के लिए पवन शर्मा ने मिनिएचर आर्टिस्ट की भूमिका को बखूबी संभाला।

नई दिल्ली। माता-पिता दुनिया का वो अनमोल रिश्ता है जो अपने बच्चों की खुशी के लिए हर संभव प्रयास करते हैं। हाल ही में कुछ ऐसा हमें सूरत में देखने को मिला जहां बच्ची की इच्छा को उसके पिता ने कुछ इस अनोखे तरीके से पूरा किया। ये घटना सूरत की है, जहां एक बच्ची को अपने डॉल्स के कपड़ों को प्रेस करने के लिए एक छोटा सा प्रेस चाहिए था लेकिन अब ऐसा तो बाजार में मिलने से रहा तो ऐसे में उसके पिता ने उसके लिए एक मिनी प्रेस बनाकर उसकी इच्छा की पूर्ति की।

Smallest press

अपनी बच्ची के लिए इस छोटे प्रेस को बनाने के लिए पवन शर्मा ने मिनिएचर आर्टिस्ट की भूमिका को बखूबी संभाला। इसे बनाने के लिए उन्होंने दुनिया का सबसे छोटा हीटर बनाया। दरअसल हुआ कुछ यूं कि एक दिन पवन की पत्नी कपड़ों को प्रेस कर रही थी और तभी उनकी बेटी भी अपनी मां की तरह अपने डॉल्स के कपड़ों को प्रेस करने की जिद करने लगी। बेटी को इस तरह से जिद करता देख मां ने कहा कि गुडिय़ों के कपड़े काफी छोटे है और वो इस आयरन से उन्हें प्रेस नही कर पाएंगी, इसके लिए छोटे प्रेस की आवश्यकता है।

Miniature

बेटी को जिद करता देख पवन ने सोचा कि क्यों न प्रेस का ही एक मिनिएचर बना लिया जाएं लेकिन ऐसा करने के लिए कुछ ऐसे सामानों की आवश्यकता थी जो कि बाजार में मिल पाना मुश्किल था। ऐसे में पवन ने घर में कबाड़ के रूप में पड़ी वस्तुओं से प्रेस को बनाने के लिए जरूरी सामानों को तलाशने लगा जैसे कि एल्युमिनियम, प्लास्टिक हैंडल,पिन, मोबाइल चार्जर इत्यादि की मदद से मात्र एक सप्ताह के भीतर ही पवन ने नाखून के आकार के एक प्रेस को बना डाला।

बता दें इस प्रेस का आकार 17 मिमी ऊंचा, 9 मिमी चौड़ा और 2.5 मिमी मोटा है और ये 12 वोल्ट डीसी इलेक्ट्रि करंट से चलता है। बता दें कि इन चीजों को बनाने में पवन को महारत हासिल है जैसे कि इससे पहले वो पेंसिल की नोंक पर 130 तरह के डिजाइन बना चुके हैं और इसके साथ ही सबसे छोटा जूता और सबसे छोटी केतली तक का निर्माण उन्होंने किया है और इसके चलते उनका नाम लिम्का बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड में भी दर्ज है।

 

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned