यूपी में हुई केंद्रीय मंत्री की बहन के अपहरण की कोशिश, लड़ रही थीं तीन तलाक के खिलाफ

Rahul Chauhan

Publish: Sep, 17 2017 11:12:23 (IST)

Miscellenous India
यूपी में हुई केंद्रीय मंत्री की बहन के अपहरण की कोशिश, लड़ रही थीं तीन तलाक के खिलाफ

फरहात नकवी काफी समय से 3 तलाक के खिलाफ लड़ रही थी लड़ाईं, कुछ कट्टरपंथियों का हो सकता है हाथ

बरेली/नई दिल्ली: मोदी सरकार में मंत्रमुख्तार अब्बास नकवी की बहन के अपहरण की कोशिश का मामला सामने आया है। घटना यूपी के बरेली की है, जहां मुख्तार अब्बास नकवी की बहन फरहत नकवी को कार में आए कुछ बदमाशों ने किडनैप करने की कोशिश की, लेकिन फरहत ने तुरंत शोर मचा दिया, जिसकी वजह से बदमाश भाग खड़े हुए।

बरेली के चौकी चौराहा पर हुई घटना
घटना बरेली के चौकी चौराहा की है, जहां दिनदहाड़े फरहात नकवी को बदमाशों ने जबरन कार में डालने की कोशिश की। हैरानी वाली बात ये है कि बदमाशों के हौंसले इस कदर बुलंद थे कि उन्हें पुलिस का कोई खौफ ही नहीं था, क्योंकी घटना से कुछ दूरी पर ही एसपी साहब का दफ्तर भी था। आपको बता दें कि फरहात नकवी काफी समय से तीन तलाक के खिलाफ लड़ाई लड़ रही हैं। इस घटना के बाद फरहत ने कोतवाली में मामला दर्ज करा दिया है, साथ ही उन्होंने बताया कि बदमाशों ने भागने से पहले उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी है। फिलाहल पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई है।

शोर मचाकर बदमाशों के हौंसले किए पस्त
अपनी शिकायत में फरहत नकवी ने बताया है कि वो शनिवार को दोपहर के वक्त वो रोड के साइड में खड़ी थीं, कि तभी एक गाड़ी उनके पास आकर रुकती है और उसमें से कुछ बदमाश उतरते हैं और मुझे जबरन कार में धकेलने की कोशिश करते हैं, इसी दौरान मैनें शोर मचाया और कुछ महिलाओं का समूह तुरंत मेरी मदद के लिए आया, जिस वजह से मैं सुरक्षित बच गई।

घटनास्थल से थोड़ी दूरी पर था एसपी दफ्तर
आपको बता दें कि चौकी चौराहा इलाके के सबसे व्यस्त चौराहों में से एक है और जिस जगह इस वारदात को अंजाम देने की कोशिश की गई, वहीं से कुछ दूरी पर एक महिला पुलिस स्टेशन भी है। इसके अलावा डिवीजनल आयुक्त का कार्यालय भी पास में ही है। इसको देखते हुए ये अंदाजा लगाया जा सकता है कि, प्रदेश के बदमाश किस तरह कानून को ठेंगा दिखा रहे हैं। इस घटना ने उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के उन दावों की पोल खोल दी है, जिसमें महिलाओं की सुरक्षा की बात करते हैं।

तीन तलाक के खिलाफ लड़ रही थी जंग
शुरुआती जांच में पुलिस ने इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाल रही है, क्योंकी मामला केंद्रीय राजनीति से जुड़ा हुआ है तो पुलिस के भी कान खड़े हो गए हैं और वो इस मामले में तेजी दिखा रही है। आपको बता दें कि फरहत नकवी पिछले काफी समय से 3 तलाक के खिलाफ जंग लड़ रही थीं, उन्होंने इसके लिए 'वो मेरा हक' नाम से एक संस्था भी बनाई थी, जिसके माध्यम से न सिर्फ मुस्लिम धर्म बल्कि अन्य धर्मों में जबरन तलाक से पीड़ित महिलाओं को इंसाफ दिलाया जा सके।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned