नागपुर अदालत ने समीर ठक्कर को नहीं दी राहत, 2 नवंबर तक बढ़ाई पुलिस हिरासत

  • समित ने आदित्य को ट्विटर पर कहा था बेबी पेंगुइन।
  • नागपुर और मुंबई में दर्ज हैं समित के खिलाफ केस।

नई दिल्ली। महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे को बेबी पेंगुइन कहने के आरोपी ट्विटर यूजर समित ठक्कर को शुक्रवार को भी अदालत ने पुलिस हिरासत से राहत नहीं दी। आज नागपुर की अदालत ने समित ठक्कर की पुलिस हिरासत 2 नवंबर तक के लिए बढ़ा दी।

आपत्तिजनक टिप्पणी करने का आरोप

ट्विटर यूजर समित ठक्कर को पुलिस ने 26 अक्टूबर को गिरफ्तार किया था। उन्हें सोशल मीडिया पर महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे और राज्य मंत्री आदित्य ठाकरे के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। बताया जा रहा है कि ट्विटर यूजर समित ठक्कर ने सोशल मीडिया पर आदित्य ठाकरे को बेबी पेंगुइन कहा था।

इससे पहले नागपुर की एक अदालत ने समित ठक्कर को 30 अक्टूबर तक के लिए पुलिस कस्टड़ी में भेज दिया था। समित ठक्कर के खिलाफ 2 जुलाई को दो प्राथमिकी दर्ज की गई थी। पहली नागपुर में और दूसरी वीपी रोड पुलिस थाना मुंबई में।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned