NEET-JEE Exam 2020 को लेकर शिक्षा मंत्री ने दिया बड़ा बयान, जानिए क्या कहा?

-NEET-JEE Exam 2020: शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ( Education Minister Ramesh Pokhriyal Nishank ) ने नीट ( NEET Exam 2020 ) और जेईई ( JEE Exam 2020) परीक्षा का समर्थन किया है।
-उन्होंने कहा है कि छात्र और उनके अभिभावक खुद चाहतें हैं कि परीक्षा हो।
-परीक्षा के आयोजन के लिए अभिभावकों और छात्रों का लगातार दबाव आ रहा है।
-बता दें कि JEE) और NEET की परीक्षा अगले महीने आयोजित होने वाली है।

By: Naveen

Published: 26 Aug 2020, 02:55 PM IST

नई दिल्ली।
NEET-JEE Exam 2020: शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ( Education Minister Ramesh Pokhriyal Nishank ) ने नीट ( NEET Exam 2020 ) और जेईई ( JEE Exam 2020) परीक्षा का समर्थन किया है। उन्होंने कहा है कि छात्र और उनके अभिभावक खुद चाहतें हैं कि परीक्षा हो। परीक्षा के आयोजन के लिए अभिभावकों और छात्रों का लगातार दबाव आ रहा है।

छात्र काफी चिंता में थे। बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा नीट और जेईई परीक्षा 2020 आयोजित करने के फैसले का विरोध हो रहा है। कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी केंद्र सरकार से फिलहाल परीक्षा नहीं कराने की अपील की है। बता दें कि JEE) और NEET की परीक्षा अगले महीने आयोजित होने वाली है।

Unlock 4 Guidelines: एक सितंबर से इन राज्यों में शुरू होंगी कक्षाएं? अप्रैल 2021 तक होगा स्कूल सत्र

NEET-JEE Exam 2020 education minister say students parents wants exams

अभिभावकों और छात्रों का दबाव
एक इंटरव्यू के दौरान शिक्षा मंत्री ने कहा, जेईई परीक्षा में बैठने वाले 80 फीसदी छात्रों ने एडमिट कार्ड डाउनलोड कर लिए हैं। हम छात्रों और अभिभावकों के लगातार दबाव में हैं। आखिर जेईई और नीट की अनुमति क्यों नहीं दी जा रही है, इससे छात्र काफी चिंता में थे। छात्र सोच रहे थे कि उन्हें और कितने समय तक पढ़ते रहना होगा?'

7.25 लाख ने डाउनलोड किए एडमिट कार्ड ( JEE Exam 2020 Admit Card )
शिक्षा मंत्री ने आगे कहा, 'जेईई के लिए 8.58 लाख छात्रों ने रजिस्टर किया था, उनमें 7.25 लाख ने अपने एडमिट कार्ड डाउनलोड कर लिए हैं। उनकी सुरक्षा शिक्षा से भी पहले है। सुरक्षा के पूरे इंतजाम किए जाएंगे।

केंद्र सरकार ने एक ना सुनी, पूर्व घोषित तारीख पर ही होंगी JEE-NEET 2020

मास्क अनिवार्य होगा
कोरोना संक्रमण ( Coronavirus ) के खतरे को देखते हुए जेईई और नीट परीक्षा में बैठने वाले छात्रों को मास्क लगाकर आना होगा। इसके अलावा हाथों में दस्ताने पहनने होंगे। छात्रों को खुद की ही पानी की बोतल और सैनिटाइजर भी परीक्षा केंद्र में लाना होगा। प्रवेश से पहले छात्रों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। हर परीक्षा केंद्र में उन बच्चों के लिए अलग से आइसोलेशन रूम होगा, जिनका तापमान अधिक होगा और ऐसा लग रहा हो कि उन्हें बुखार है, उन्हें अलग से बैठाया जाएगा।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned