पांच महीने के बैन के बाद उत्तराखंड में मैगी का उत्पादन फिर शुरू

पांच महीने के बैन के बाद उत्तराखंड में मैगी का उत्पादन फिर शुरू

कर्नाटक के नांजागुड, पंजाब के मोगा और गोवा के बिचोलिम के बाद मैगी उत्पादन शुरू करने वाला यह चौथ संयंत्र होगा।

नई दिल्ली। नेस्ले इंडिया ने सोमवार को कहा कि उसने उत्तराखंड के पंतनगर संयंत्र में मैगी नूडल का उत्पादन फिर से शुरू कर दिया है। कर्नाटक के नांजागुड, पंजाब के मोगा और गोवा के बिचोलिम के बाद मैगी उत्पादन शुरू करने वाला यह चौथ संयंत्र होगा।

नेस्ले इंडिया के प्रमुख सुरेश नारायणन ने एक बयान में कहा कि हम अभी 600 से अधिक शहरों के करीब दो लाख स्टोरों तक पहुंचे हैं और 4.5 करोड़ पैकेट बेच चुके हैं। हमें उम्मीद है कि इस यात्रा से हम फिर से नई ताजगी के साथ ब्रांड पर ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। राज्य सरकार द्वारा लगाई गई पाबंदी के कारण उत्तराखंड के संयंत्र में मैगी का उत्पादन अब तक शुरू नहीं हो पाया था।

कंपनी ने कहा कि हमने अभी तक हिमाचल प्रदेश के तहलीवाल में उत्पादन शुरू नहीं किया है और आवश्यक मंजूरी के लिए कोशिश कर रहे हैं। पांच महीने की पाबंदी के बाद कंपनी ने हालांकि नूडल फिर से बाजार में उतार दिया है, लेकिन उसे सरकार की ओर से व्यापार के अनुचित तरीके अपनाने के आरोप में 640 करोड़ रुपये के क्लास एक्शन सूट का सामना करना पड़ रहा है।
खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned