दिल्ली मेट्रो ने लगाया नया सिस्टम, अब ऐसे खुलेंगे एंट्री गेट

दिल्ली मेट्रो ने यात्रियों की सुविधा के लिए ओपन गेट सिस्टम लगाया है।

नई दिल्ली। किराया बढ़ाने के बाद अब दिल्ली मेट्रो ने खुद को हाईटेक करना शुरू कर दिया है। इस हाईटेक सिस्टम के बाद अब भीड़ वाले स्टेशनों पर एंट्री करना और निकलना आसान हो जाएगा। दिल्ली मेट्रो के मुताबिक मौजूद गेट सिस्टम में एक मिनट में 10 से 15 व्यक्ति घुसते निकलते हैं। इस संख्या को बढ़ाने के लिए ओपन गेट सिस्टम लगाया जा रहा है, जिससे अब प्रति मिनट 20-25 यात्री बाहर निकलेंगे।

कैसे काम करेगा सिस्टम?
मौजूदा समय में गेट पर टोकन या स्मार्ट कार्ड लगाने पर गेट खुल जाते हैं, लेकिन अब ओपन गेट सिस्टम लगेगा। इसमें गेट हमेशा खुला रहेगा। यात्री टोकन और कार्ड के टच करवाकर आ-जा सकेंगे। जैसे ही कोई व्यक्ति बिना टोकन या कार्ड के निकलने की कोशिश करेगा वैसे ही गेट बंद हो जाएंगे।

क्यों लाया गया सिस्टम?
दरअसल ऑफिस जाने और आने के समय मेट्रो स्टेशनों पर भीड़ बढ़ जाती है। ऐसे में एंट्री और निकलने वाले गेटों पर लोगों की लंबी कतार लग जाती है। इस सिस्टम से प्रवेश और निकासी में 65 फीसदी की बढ़ोत्तरी होगी।

महंगा हुआ दिल्ली मेट्रो का सफर, 5 माह में फिर बढ़ाया गया किराया

भीड़ कम करने के लिए इस प्लान पर काम कर रही दिल्ली मेट्रो
दिल्ली मेट्रों अब 28 नए इंटरचेज प्वांइट बनाने जा रही है ताकि यात्रियों को भीड़ की समस्या से नहीं जूझना पड़े। राजीव चौक, केंद्रीय सचिवालय, कश्मीरी गेट, यमुना बैंक सहित कई इंटरचेंज प्वांइट ऐसे हैं जहां काफी संख्या में यात्री एक जगह से दूसरी जगह के लिए मेट्रो बदलते हैं। पीक ऑवर में यात्रियों की संख्या बढ़ जाती है। ऐसे में मेट्रो सुरक्षाकर्मियों को भीड़ को संभालना मुश्किल हो जाता है। कई बार तो भीड़ के कारण मेट्रों में प्रवेश द्वार को ही बंद कर दिया जाता है। इंटरचेंज प्वांइट बन जाने से काफी हद तक भीड़ की समस्या को कम किया जा सकता है।

ashutosh tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned