वैष्णो देवी के बाद अमरनाथ यात्रा पर NGT की नजर, नारियल फेंकने पर जताई आपत्ति

वैष्णो देवी के बाद अमरनाथ यात्रा पर NGT की नजर, नारियल फेंकने पर जताई आपत्ति

Chandra Prakash | Publish: Nov, 15 2017 02:50:56 PM (IST) | Updated: Nov, 15 2017 02:53:30 PM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

एनजीटी मे अमरनाथ मंदिर के आसपास पर्यावरण सुरक्षा और श्रद्धालुओं की सुविधा को लेकर अमरनाथ श्राइन बोर्ड को फटकार लगाई है।

नई दिल्ली। वैष्णो देवी के बाद नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) अमरनाथ यात्रा पर सख्त हुई है। एनजीटी ने अमरनाथ मंदिर के आसपास पर्यावरण सुरक्षा और श्रद्धालुओं की सुविधा को लेकर अमरनाथ श्राइन बोर्ड को फटकार लगाई है। एनजीटी ने पूछा कि 2012 में सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए आदेशों का अबतक पालन क्यों नहीं किया गया है।


नारियल फेंकने पर भी एनजीटी को ऐतराज
बुधवार को अमरनाथ यात्रा पर सुनवाई करते हुए एनजीटी ने अमरनाथ श्राइन बोर्ड से कहा कि गुफा के पूरे इलाके को साइलेंट जोन घोषित किया जाए। इसके साथ ही गुफा के आसपास पूजा के रुप में चढ़ाए जाने वाली चीजों और नारियल फेंकने पर भी एनजीटी ने आपत्ति जताई है। इससे गुफा को बर्फीली वादियों में होने वाले हिमस्खलन से भी बचाया जा सकता है।

वैष्णो देवी दर्शन के लिए अब रोजाना 50 हजार लोगों को मिलेगी अनुमति, NGT ने लगाई रोक


श्राइन बोर्ड से एनजीटी ने मांगी रिपोर्ट
एनजीटी ने श्रद्धालुओं की मूलभूत सुविधाओं के लिए एक कमेटी भी गठित करने को कहा है। यह कमेटी जांच के बाद मंदिर के आस-पास पानी की स्वच्छता, उचित मार्ग मुहैया कराने जैसी कई महत्वपूर्ण पहलुओं पर अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। एनजीटी ने दिसंबर के पहले हफ्ते में स्टेटस रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए हैं।


एक दिन में 50 हजार लोग करेंगे वैष्णो देवी दर्शन
बता दें कि इससे पहले सोमवार को वैष्णो देवी तीर्थ यात्रियों की संख्या को लेकर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने बड़ा फैसला सुनाया है। एनजीटी ने अपने फैसले में कहा कि हर रोजाना सिर्फ 50 हजार लोग ही वैष्णो देवी के दर्शन कर सकते हैं। अगर श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ती है तो उन्हें कटरा या अर्धकुवांरी में ही रोक दिया जाएगा। इन लोगों को अगले दिन दर्शन का मौका मिलेगा। कोर्ट ने कहा कि मां वैष्णो देवी दरबार में 50 हजार लोगों की ही क्षमता है और इससे अधिक लोगों के वहां जाने की इजाजत देना खतरनाक हो सकता है। जिसकी वजह से यह रोक जरुरी है।


मंदिर के आसपास निर्माण काम पर रोक
श्रद्धालुओं की संख्या कम करने के साथ ही इसके साथ ही एनजीटी ने वैष्णो देवी मंदिर के आस पास चल रहे निर्माण कार्यों पर तुरंत रोक लगाने का आदेश दिया है। हालांकि अभी इस बात की जानकारी नहीं मिल पाई है कि यह दोनों रोक तबतक लागू रहेगी।

Ad Block is Banned