तमिलनाडु : आईएसआईएस समर्थित समूह से जुड़ी जगहों पर एनआईए के छापे

  • एजेंसी ने कोयंबटूर सिटी की दो जगहों पर तलाशी ली
  • तलाशी के दौरान दो लैपटॉप, आठ मोबाइल फोन और सिम कार्ड बरामद
  • कई दस्तावेज भी जब्त किए गए

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने गुरुवार को आईएसआईएस कोयंबटूर मॉड्यूल मामले में तमिलनाडु के छह स्थानों पर हिंदू संगठनों के नेताओं की हत्या के लिए आईएसआईएस (इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड सीरिया) से प्रेरित समूह की ओर से कथित साजिश के संबंध में छापेमारी की। इसके साथ ही यह छापेमारी श्रीलंका में इस साल अप्रैल में ईस्टर बमबारी के संदिग्धों के आतंकवादी समूह से संबंधों को लेकर भी की गई।

नई दिल्ली में एनआईए के एक प्रवक्ता ने कहा कि जांच एजेंसी ने बीते साल सितंबर में दर्ज आईएसआईएस कोयंबटूर मॉड्यूल मामले में आरोपी व्यक्तियों के सहयोगियों के घर पर तलाशी ली।

एजेंसी ने कोयंबटूर सिटी की दो जगहों पर तलाशी ली और राज्य के शिवगंगा, त्रिचिरापल्ली, नागपट्टिनम और तूतूकुड़ी में एक-एक जगहों की तलाशी ली। उन्होंने कहा कि तलाशी के दौरान, दो लैपटॉप, आठ मोबाइल फोन, पांच सिम कार्ड, एक एसडी कार्ड और 14 दस्तावेज जब्त किए गए।

प्रवक्ता के अनुसार- 'जब्त सामग्री को फोरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा। आरोप पत्र दायर व्यक्तियों से संबंध की पुष्टि के लिए जिन लोगों की तलाशी ली गई है, उनसे पूछताछ की जा रही है।'

एनआईए के अनुसार, यह मामला छह आरोप पत्र दायर व्यक्तियों व उनके सहयोगियों की ओर से रची गई आपराधिक साजिश से जुड़ा है। इनका मकसद आईएसआईएस के उद्देश्य को आगे बढ़ाते हुए कोयंबटूर में कुछ हिंदू नेताओं को निशाना बनाना था।

Show More
Navyavesh Navrahi
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned