ओडिशा सरकार ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन में की बढ़ोतरी, 48 लाख लोगों को मिलेगा फायदा

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने शनिवार को मधु बाबू पेंशन योजना (एमबीपीवाई) के तहत 48 लाख लाभार्थियों के लिए सामाजिक सुरक्षा पेंशन में वृद्धि का ऐलान किया है।

भुवनेश्वर। ओडिशा सरकार ने शनिवार को एक बड़ी घोषणा की है। सरकार के इस घोषणा से 48 लाख लोगों को फायदा मिलेगा। दरअसल मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने शनिवार को मधु बाबू पेंशन योजना (एमबीपीवाई) के तहत 48 लाख लाभार्थियों के लिए सामाजिक सुरक्षा पेंशन में वृद्धि का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री पटनायक ने यहां अमा गांव अमा विकास कार्यक्रम में इस वृद्धि की घोषणा की। बता दें कि नई घोषणा के मुताबिक, पेंशनधारियों को अब 500 रुपये प्रति माह का संशोधित पेंशन मिलेगा, जबकि पहले 300 रुपये मिलती थी। वहीं, 80 साल के अधिक उम्र के लोगों को अब 700 रुपये प्रति माह का पेंशन मिलेगा, जो पहले 500 रुपये प्रति माह मिलता था।

ओडिशा में कांग्रेस को बड़ा झटका, नाबा किशोर दास ने दिया इस्तीफा

15 फरवरी से मिलेगा लाभ

मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि करीब 48 लाख लाभार्थियों में राज्य के बुर्जुग पुरुष व महिलाएं, दिव्यांग, विधवा और निराश्रित महिलाएं शामिल है। उन्हें नया पेंशन 15 फरवरी से मिलेगा। सीएम ने पटनायक ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि मेरी सरकार का लक्ष्य एमबीपीवाई के तहत सभी वास्तविक लाभार्थियों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना है। हाल ही में इस योजना में पांच लाख अतिरिक्त लाभार्थियों को शामिल किया गया है। इसके साथ ही इस योजना के लाभार्थियों की संख्या बढ़कर 48 लाख हो गई है। बता दें कि पटनायक सरकार की ओर से कई ऐसी योजनाएं चलाई जा रही है जिसका सीधा फायदा गरीब आम नागिरकों को पहुंच रहा है। पटनायक सरकरा गरीबों को सस्ते दामों में खाना भी उपल्बध करा रही है। पांच रुपये में सस्ता भोजन दिया जा रहा है। इसके अलावे बीते दिनों सरकार ने एक बड़ी घोषणा करते हुए अस्पतालों के बाहर कैंटिन खोलने का भी ऐलान किया था। इस कैंटिन में मरीजों के परिजनों को सस्ते दाम में खाना उपलब्ध हो सके इसके लिए पर्याप्त व्यवस्था की गई है।

 

Read the Latest India news hindi on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले India news पत्रिका डॉट कॉम पर.

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned