केसीके अन्तरराष्ट्रीय अवार्ड के लिए ऑनलाइन प्रविष्टि शुरू

  • अवार्ड के लिए 15 मई,2020 तक स्वीकार की जाएंगी प्रविष्टियां
  • पुरस्कार राशि के लिहाज से प्रिंट जर्नलिज्म का सबसे बड़ा पुरस्कार
  • विजेता को दिए जाएंगे 11 हजार अमरीकी डॉलर, अन्य श्रेष्ठ प्रविष्टियों को मेरिट अवार्ड भी

जयपुर। राजस्थान पत्रिका समूह की ओर से समूह के संस्थापक कर्पूर चन्द्र कुलिश की स्मृति में स्थापित केसी कुलिश इंटरनेशनल अवार्ड फॉर एक्सीलेंस इन जर्नलिज्म के लिए शुक्रवार को उनकी जयन्ती (२० मार्च) से ऑनलाइन प्रविष्टि की प्रक्रिया शुरू हो गई। वर्ष 2018 (12 वें) व 2019 (13 वें) दोनों वर्षों के पुरस्कारों के लिए प्रविष्टि भेजने की अंतिम तिथि 15 मई 2020 रखी गई है।

पुरस्कार व प्रविष्टि सम्बन्धी जानकारी वेबसाइट http://kckawards.patrika.com पर उपलब्ध है। इसी पर ऑनलाइन आवेदन का लिंक दिया गया है। वर्ष 2018 के अवार्ड के लिए एक जनवरी से 31 दिसम्बर 2018 और वर्ष 2019 के लिए एक जनवरी से 31 दिसम्बर 2019 तक दुनिया के किसी भी समाचार पत्र अथवा राष्ट्रीय-अन्तरराष्ट्रीय न्यूज मैग्जीन में प्रकाशित समाचार या समाचार अभियान पात्र होंगे।

दोनों वर्ष के लिए अलग-अलग प्रविष्टि भेजनी होगी। राशि के लिहाज से दैनिक समाचार पत्र एवं राष्ट्रीय-अन्तरराष्ट्रीय न्यूज मैग्जींस में पत्रकार या पत्रकारों की टीम के बेहतरीन कार्य के लिए संभवत: यह दुनिया का सबसे बड़ा पुरस्कार है। विजेता को पुरस्कारस्वरूप ११ हजार अमरीकी डॉलर और प्रशस्ति पत्र प्रदान किए जाते हैं। साथ ही 10 अन्य श्रेष्ठ प्रविष्टियों के लिए मेरिट अवार्ड भी प्रदान किए जाते हैं। पत्रकारिता सहित विभिन्न क्षेत्रों के प्रतिष्ठित प्रतिनिधियों की स्वतंत्र जूरी श्रेष्ठ प्रविष्टि का चयन करेगी।

पुरस्कार की शुरुआत वर्ष 2007 से की गई। पहला पुरस्कार पाकिस्तान के डॉन समाचार पत्र की सहायक संपादक अफसां सुभई व हिंदुस्तान टाइम्स के सीनियर रोविंग एडीटर नीलेश मिश्रा को संयुक्त रूप से दिया गया।

दूसरा पुरस्कार हिंदुस्तान टाइम्स की वरिष्ठ पत्रकार हरिन्दर बावेजा को, तीसरा पुरस्कार घाना के दैनिक न्यू क्रुसेडिंग गाइड समाचार पत्र के अनस आर्नेयो अनस को तथा चौथा पुरस्कार द पॉयनियर के जे गोपीकृष्णन की टीम व टाइम्स ऑफ इंडिया की अजीथा कार्तिकेयन को संयुक्त रूप से दिया गया।

पांचवे पुरस्कार के लिए कोई योग्य नहीं पाया गया, केवल 5 मेरिट पुरस्कार ही दिए गए। छठा पुरस्कार इंटरनेशनल कंसोर्टियम ऑफ इंवेस्टिगेटिव जर्नलिस्ट (आइसीआइजी) के वाशिंगटन स्थित पत्रकार जेरार्ड राइल की टीम तथा सातवां पुरस्कार आइसीआइजे के जेरार्ड राइल की टीम एवं इंडियन एक्सप्रेस के पत्रकार मनु पब्बी की टीम को दिया गया।

इसी तरह आठवां पुरस्कार न्यू अफ्रीकन मैग्जीन के वनजोही काबुकुरू, नौवां पुरस्कार अमर उजाला के राकेश शर्मा व उनकी टीम, दसवां पुरस्कार घाना के न्यू क्रुसेडिंग गाइड समाचार पत्र के अनस आर्नेयो अनस तथा ग्यारहवां पुरस्कार कुआलालम्पुर के द स्टार मीडिया के इआन यी व उनकी टीम को प्रदान किया गया।

धीरज शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned