पाक PM इमरान खान श्रीलंका के दौरे पर, कश्मीर को लेकर कही ये बात

Highlights

  • कहा, 2018 में पीएम निर्वाचित होने पर भारत को शांति वार्ता के लिए आमंत्रित किया।
  • खान ने श्रीलंका के पीएम महिंदा राजपक्षे के संग सम्मेलन की सह-अध्यक्षता की।

कोलंबो। पाकिस्तान के पीएम इमरान खान (Imran Khan) ने बुधवार को कहा कि भारत के संग केवल कश्मीर का ‘विवाद’ है और इसे वार्ता के जरिए सुलझाया जा सकता है। श्रीलंका-पाक व्यापार और निवेश सम्मेलन को संबोधित करते हुए खान ने कहा कि उन्होंने 2018 में पीएम निर्वाचित होने पर भारत को शांति वार्ता के आमंत्रित करने का प्रस्ताव दिया था, मगर कुछ नहीं हो सका।

पीएम मोदी बोले- व्यवसाय करना सरकार का काम नहीं है, इससे अर्थव्यवस्था को होता है नुकसान

खान ने श्रीलंका के पीएम महिंदा राजपक्षे के संग इस सम्मेलन की सह-अध्यक्षता की। उन्होंने कहा ‘हमारा विवाद केवल कश्मीर (Kashmir) को लेकर है, इसे वार्ता के जरिए सुलझाया जा सकता है।’ भारत ने कहा था कि वह आतंक, हिंसा और अस्थिरता मुक्त माहौल में पाकिस्तान (Pakistan) के साथ रिश्ते सामान्य बनाना चाहते हैं।

खान के अनुसार ‘जैसे ही वे सत्ता में आए, उन्होंने अपने पड़ोसी भारत से संपर्क साधने की कोशिश की और पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को बताया कि वार्ता के जरिए दोनों देशों के मतभेद सुलझाए जा सकते हैं।’ इमरान खान के अनुसार उन्हें कामयाबी नहीं मिली। उन्होंने कहा कि व्यापार संबंध बढ़ाकर ही उपमहाद्वीप में गरीबी मिटाई जा सकती है।

भारत ने कहा है कि आतंक और अस्थिरता मुक्त माहौल तैयार करना पाक की जिम्मेदारी है। खान कोरोना वायरस महामारी के बाद से श्रीलंका का दौरा करने वाले पहले राष्ट्राध्यक्ष हैं। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में पड़ोसी देशों के बीच बेहतर रिश्तों से राजनीतिक स्थिरता कायम कर कारोबार को अनुकूल माहौल बनाया जा सकता है। जिससे लोगों को ही फायदा होगा।

pm modi
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned