पटना शेल्टर होम की दो लड़कियों की संदिग्ध हालत में मौत, 2 लोग गिरफ्तार

पटना शेल्टर होम की दो लड़कियों की संदिग्ध हालत में मौत, 2 लोग गिरफ्तार

prashant jha | Publish: Aug, 12 2018 03:09:15 PM (IST) | Updated: Aug, 12 2018 03:43:53 PM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

गौरतलब है कि बिहार में शेल्‍टर होम की स्थिति ठीक नहीं चल रही है। पिछले दिनों पटना शेल्टर होम की चार युवतियों ने ग्रिल काटकर भागने की कोशिश की थी।

पटना: मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड का मामला अभी थमा भी नहीं था कि पटना के आसरा शेल्‍टर होम की घटना सामने आई है। शेल्टर होम की दो लड़कियों की संदिग्ध हालत में मौत हो गई। दोनों लड़कियों की मौत पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल में हुई। लेकिन इसकी सूचना स्‍थानीय पुलिस को नहीं दी गई। पुलिस ने जांच में शेल्टर होम के मालिक और सेक्रेटरी को गिरफ्तार कर लिया है। मामले की जांच चल रही है। गौरतलब है कि पटना का शेल्‍टर होम विवादों में रहा है। पिछले दिनों ही इसी शेल्टर होम की चार युवतियों ने ग्रिल काटकर भागने की कोशिश की थी।

ये भी पढ़ें: बालिका गृह कांड: ब्रजेश ठाकुर के पास से 40 मोबाइल नंबर बरामद, सूची में मंत्री के नंबर भी शामिल

स्थानीय पुलिस और सामाजिक कल्याण विभाग को नहीं दी गई जानकारी

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पटना के राजीव नगर थाना क्षेत्र स्थित आसरा शेल्‍टर होम में रहने वाली दो लड़कियों को शुक्रवार की रात डायरिया होने की शिकायत पर पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्‍पताल (पीएमसीएच) में भर्ती कराया गया था । लेकिन शनिवार को संदिग्ध हालत में दोनों की मौत हो गई। लेकिन प्रबंधन इसकी जानकारी पुलिस को नहीं दी। यहां तक की मौत के बाद शेल्टर होम प्रबंधन और अस्पताल प्रबंधन ने मिलकर अस्पताल परिसर थाना की पुलिस की मौजूदगी में युवतियां के शव का पोस्‍टमॉर्टम भी कर दिया। लेकिन शेल्‍टर होम के स्थानीय राजीव नगर थाना को घटना की सूचना नहीं दी गई।

अस्पताल में हुई दोनों लड़कियों की मौत

जानकारी के अनुसार दोनों युवतियों को उल्टी दस्त की शिकायत के बाद अस्पतला में भर्ती कराया गया था । लेकिन आसरा गृह प्रबंधन ने पुलिस को इसकी जानकारी नहीं दी। मामले की जांच के लिए सामाजिक कल्याण विभाग की टीम शेल्टर होम पहुंच गई है। वहीं स्थानीय पुलिस भी मौके पर मौजूद है।

विवादों से घिरा शेल्‍टर होम
गौरतलब है कि आसरा शेल्‍टर होम से चार युवतियों ने ग्रिल काटकर भागने की कोशिश की थी। आसरा शेल्टर होम के आसापास रहने वाले लोगों ने बताया कि शेल्टर होम में लड़कियों को सही तरीके से नहीं रखा जाता। कई बार देर रात लोगों का आना-जाना का सिलसिला लगा रहता है। बता दें कि आसरा होम में मानसिक रूप से विक्षिप्त महिलाओं और बच्चों को रखा जाता है। अभी 75 महिलाएं और बच्चे हैं।

Ad Block is Banned