हैलो मैं नरेंद्र मोदी बोल रहा हूं: पीएम ने नर्स से पूछा, कैसे दूर करती हैं कोरोना मरीजों का डर

  • Coronavirus के खतरे के बीच PM Modi ने घुमाया फोन
  • पुणे के नायडू अस्पताल की नर्स से की बात
  • कोरोना से जंग में काम को लेकर की प्रशंसा

नई दिल्ली। देशभर में कोरोनावयारस ( coronavirus In Indian ) का खतरा लगातार बढ़ रहा है। भारत में अब तक कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 850 के पार पहुंच चुकी है। यही वजह है कि पीएम मोदी ( pm modi ) लगातार देश में कोरोना से बने हालातों के नियंत्रण को लेकर कड़े कदम उठा रहा है। देश में 21 दिन का लॉकडाउन भी घोषित किया जा चुका है जिसका शनिवार को चौथा दिन है।

पीएम मोदी खुद लगातार पुलिस, प्रशासन, हेल्थ सेक्टर से लेकर मीडिया तक तमाम लोगों से संवाद कर कोरोना से निपटने में जुटे हैं। इसी कड़ी में पीएम मोदी ने हेल्थ सेक्टर से जुड़े दो लोगों से फोन पर बात की। अचानक पीएम मोदी के फोन पर उनकी प्रशंसा की तो इन लोगों का हौसला बढ़ा दिया।

तेजी से बदल रही है मौसम की चाल, कहीं बर्फबारी को तो कहीं बारिश से बुरा हाल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हमेशा अच्छा काम करने वालों की हौसला अफजाई करते रहते हैं और उनकी तारीफ करने से नहीं चूकते। वह अपने रेडियो कार्यक्रम मन की बात के जरिए ऐसे खास लोगों के बारे में देशवासियों को बताते हैं।

ऐसा ही एक उदाहरण देखने को मिला। जब उन्होंने महाराष्ट्र के सरकारी अस्पताल नायडू की वरिष्ठ नर्स और जम्मू-कश्मीर के एक डॉक्टर से फोन पर बात की।

पीएम मोदी ने निजी फोन पर कॉल किया और चिकित्सा क्षेत्र से जुड़े लोगों के काम की प्रशंसा की। कर्मचारी यह जानकर हैरान हो गईं कि खुद प्रधानमंत्री ने उन्हें फोन किया है।

पुणे में कोविड-19 के उपचार के लिए नामित आइसोलेशन वार्ड में से एक नायडू अस्पताल के प्रभारी और सार्वजनिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ संजीव वावरे ने कहा, 'नायडू अस्पताल में नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के रोगियों की देखभाल करने के लिए कुल 60 नर्स शामिल हैं।

जब नायडू अस्पताल में काम करने वाली नर्सों की जानकारी के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय ने गुरुवार को हमसे संपर्क किया, तो हमने उन्हें कुछ नाम दिए।' इन्हीं नामों में से पीएम मोदी ने नर्स छाया जगताप को फोन किया।
जगताप नायडू अस्पताल में 20 वर्ष से नर्स का काम कर रही हैं।

उन्होंने उनसे बात की और देश भर में उनके काम और अग्रिम पंक्ति पर काम करने वाली कई अन्य नर्सों की सराहना की। जो इतनी बहादुरी से अपने कर्तव्यों का निर्वहन कर रही हैं और अपनी देखरेख में इलाज करवा रहे मरीजों का मनोबल बढ़ा रही हैं।

दिग्गज नेता ने पीएम मोदी को लिखा खत, एयरलिफ्ट की मांग की

कैसे दूर करती हैं कोरोना के मरीजों का डर?
पीएम मोदी ने छाया से फोन पर बातचीत में पूछा कि आप किस तरह कोरोना के मरीजों का डर दूर करती हैं। सिस्टर ने बताया डरे हुए मरीजों को हम बताते हैं कई मरीज ठीक होकर घर वापस गए हैं। बस आपको डॉक्टर और हमारा साथ देना होगा। आप भी घर जा सकते हैं।

पीएम मोदी ने सिस्टर छाया से उनका हालचाल भी पूछा। पीएम ने पूछा कि वह अपना ध्यान अच्छे से रख रही हैं या नहीं। जवाब में सिस्टर ने उन्हें बताया कि वह पूरी तरह से स्वस्थ्य हैं।

परिवार को कैसे मनाया?
पीएम ने सिस्टर छाया से पूछा किस तरह उन्होंने अपने परिवार को मनाया कि वे कोरोना के मरीजों का इलाज करने जा रही हैं। इसके जवाब में छाया ने कहा कि परिवार को चिंता तो होती है, लेकिन देश जिस दौर से गुजर रहा है उसमें हमारा काम पहले जरूरी है. हमें लोगों की मदद के लिए आगे आना ही होगा। मेरा परिवार समझता है कि मेरी जरूरत पहले क्या है।

धीरज शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned