ASEAN में बोले पीएम मोदी- आतंकवाद सबसे बड़ा खतरा, मिलकर लड़नी होगी लड़ाई

ashutosh tiwari

Publish: Nov, 14 2017 07:26:32 (IST) | Updated: Nov, 14 2017 07:42:56 (IST)

Miscellenous India
ASEAN में बोले पीएम मोदी- आतंकवाद सबसे बड़ा खतरा, मिलकर लड़नी होगी लड़ाई

पीएम मोदी ने आतंकवाद और पाकिस्तान पर जमकर निशाना साधा।

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आसियान सम्मेलन में हिस्सा लेने मनीला पहुंचे हैं। मंगलवार को आसियान में अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी ने आतंकवाद और पाकिस्तान पर जमकर निशाना साधा। पीएम मोदी ने कहा कि मौजूदा समय में दुनिया के सामने आतंकवाद और चरमपंथ सबसे बड़े खतरे के रूप में उबरा है। हमने आतंकवाद के खिलाफ लड़ने की बहुत सी कोशिशें की हैं लेकिन अब वक्त आ गया है कि हम अपने सहयोग को बढ़ाएं और मिलकर आतंकवाद का सामना करें। वहीं पीएम मोदी ने कहा कि रिसोर्स रिच इंडो पैसेफिक रीजन में रूल बेस्ड सिक्युरिटी आर्किटेक्चर होना चाहिए। इसके साथ भारत रूल बेस्ड सिक्युरिटी इन्फ्रास्ट्रक्चर को नीति का सपोर्ट करेगा, जो इस क्षेत्र में लिए बेहतर होगा।

 

इन मुद्दों पर रहा जोर
दरअसल, आसियान संगठन व्यापार, निवेश, समुद्री सुरक्षा, आतंकवाद व परमाणु प्रसार जैसे अहम मुद्दों पर चर्चा और प्रतिबंध लगाने के लिए बनाया गया है। मंगलवार को भारत ने आतंकवाद जैसे बड़े मुददे पर संगठन के देशों का विशेष सहयोग मांगा। आसियान 10 सदस्य देशों के इस संगठन में भारत, चीन, जापान, कोरियन रिपब्लिक ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, अमरीका और रूस शामिल हो रहे हैं। आसियान संगठन व्यापार, निवेश, समुद्री सुरक्षा, आतंकवाद व परमाणु प्रसार जैसे अहम मुद्दों पर चर्चा और प्रतिबंध लगाने के लिए बनाया गया है।

मजबूत हो रहा भारत-अमरीका का रिश्ता: पीएम मोदी
वहीं दूसरी ओर सोमवार को पीएम मोदी ने अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात की थी। इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत और अमरीका के बीच रिश्ते काफी पुराने और मजबूत हैं. दोनों देश एशिया और मानवता के लिए साथ मिलकर काम करेंगे। इस दौरान मोदी आतंकवाद और उग्रवाद की बढ़ती चुनौतियों से निपटने के लिये एक वैश्विक दृष्टिकोण तय किए जाने की भारत की मांग दोहराने के साथ क्षेत्रीय व्यापार बढ़ाने के लिये कदम उठाने पर जोर दे सकते हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned