अयोध्या विवाद पर फैसले से पहले पीएम मोदी का ट्वीट, 'ये फैसला किसी की हार-जीत नहीं होगा'

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला शनिवार (9 नवंबर) सुबह 10:30 बजे आएगा।

नई दिल्ली। हिंदुस्तान के सबसे पुराने विवाद पर देश की सबसे बड़ी अदालत शनिवार को अपना सुप्रीम फैसला सुनाने जा रही है। अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला 9 नवंबर यानि कि शनिवार को सुबह साढ़े दस बजे आ रहा है। 40 दिन तक चली सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की बेंच अयोध्या विवाद पर फैसला सुनाएगी।

पीएम ने की शांति की अपील

इस ऐतिहासिक फैसले से पहले देशभर में हर कोई शांति बनाए रखने की अपील कर रहा है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ऐतिहासिक फैसले से पहले एक ट्वीट किया है। पीएम मोदी ने सभी देशवासियों से शांति बनाए रखने की अपील की है। पीएम ने कहा है कि फैसला चाहे जो भी आए, लेकिन वो किसी की हार-जीत नहीं होगी। पीएम ने कहा है कि सभी देशवासियों से मेरी अपील है कि हम सब की यह प्राथमिकता रहे कि ये फैसला भारत की शांति, एकता और सद्भावना की महान परंपरा को और बल दे।

पीएम ने किए तीन ट्वीट लगातार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिलसिलेवार तरीके से तीन ट्वीट किए हैं, जिसमें पीएम ने इस मामले की सुनवाई का भी जिक्र किया है। पीएम ने कहा है कि सुनवाई के दौरान ही दोनों पक्षों की तरफ से जो सौहार्दपूर्ण रवैयाा अपनाया गया है, वो काबिले-ए-तारीफ है।

योगी ने तो उपद्रवियों को दे डाली वॉर्निंग

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले उत्तर-प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी ट्वीट कर कानून व्यवस्था को बनाए रखने की अपील की है। योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कानून व्यवस्था को बनाए रखने में प्रशासन का सहयोग करें। योगी ने तो सख्त लहजे में ये चेता भी दिया है कि अगर किसी ने कानून व्यवस्था के साथ खिलवाड़ किया तो उसे बख्शा नहीं जाएगा, चाहे फिर वो कोई भी हो।

आपको बता दें कि अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के इस बड़े से पहले केंद्र सरकार हो या फिर किसी भी राज्य की सरकार, लापरवाही नहीं बरतना चाहती। केंद्र सरकार के साथ-साथ यूपी सरकार ने भी कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए अयोध्या में 4000 और अतिरिक्त जवानों की तैनाती कर दी है। इसके अलावा यूपी समेत उत्तर-भारत के ज्यादातर राज्यों में धारा 144 को लागू कर दिया गया है। स्कूल -कॉलेजों को भी बंद कर दिया गया है।

Kapil Tiwari
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned