मुंबई बीजेपी दफ्तर के बाहर PMC बैंक खाताधारकों का प्रदर्शन, वित्त मंत्री बोलीं- सरकार का सीधा लेनादेना नहीं

मुंबई बीजेपी दफ्तर के बाहर PMC बैंक खाताधारकों का प्रदर्शन, वित्त मंत्री बोलीं- सरकार का सीधा लेनादेना नहीं
मुंबई बीजेपी दफ्तर के बाहर PMC बैंक खाताधारकों का प्रदर्शन, वित्त मंत्री सीतारमण बोलीं- सरकार का सीधा लेनादेना नहीं

  • मुंबई बीजेपी दफ्तर के बाहर PMC बैंक खाताधारकों का प्रदर्शन
  • केंद्रीय वित्त मंत्री सीतारमण बोलीं जरूरत पड़ने पर कानून में बदलाव

नई दिल्ली। पंजाब और महाराष्ट्र कॉपरेटिव बैंक घोटाले को लेकर खाताधारकों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है। आज इसी कड़ी में खाताधारकों ने मुंबई भाजपा मुख्यालय के बाहर PMC बैंक विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है। बड़ी संख्या में बैंक खाताधारक बीजेपी दफ्तर के बाहर प्रदर्शन करने लगे। खाताधारक विरोध प्रदर्शन उस समय शुरू कर दिए जब केंद्रीय केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण भाजपा मुख्यालय से प्रेस कॉन्फ्रेंस करने जा रही थी। नाराज बैंक खाताधारकों ने वित्त मंत्री से गुहार लगाई है।

खाताधारकों ने मांग की है कि उनकी गाढ़ी कमाई को सरकार जल्द से जल्द दिलाने में मदद करें। जिसपर वित्त मंत्री ने मदद करने का भरोसा दिलाया।

RBI पेशवर तरीके से मामला सुलझालेगा- सीतारमण

वहीं केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मुंबई के बीजेपी दफ्तर में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। सीतारमण ने कहा कि कॉपरेटिव बैंकों को केंद्रीय रिजर्व बैंक देखरेख करती है। इसमें सरकार का सीधा कोई लेनादेना नहीं है। जहां तक बैंक ग्राहकों की बात है तो मैंने उनकी बात सुनी है और इस पूरे मामले पर RBI से बातचीत की जाएगी। सीतारमण ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि आरबीआई बहुत ही अच्छे तरीके से मामले को सुलझालेगी।

ये भी पढ़ें: महाराष्ट्र चुनाव से पहले शिवसेना को बड़ा झटका, 26 पार्षद और 300 कार्यकर्ताओं ने दिया इस्तीफा

errrrrsssssssssssssssssssssss.jpg

PMC बैंक में 4355 करोड़ रुपए का घोटाला

गौरतलब PMC बैंक में 4355 करोड़ रुपए का घोटाला किया गया है। इसमें लोगों के 11 हजार 600 करोड़ रुपए जमा हैं। बताया जा रहा है कि बैंक ने 8300 करोड़ रुपए बांट दिए हैं। पुलिस ने बैंक के एमडी और मैनेजर को गिरफ्तार कर लिया है।

RBI पूरे मामले पर बनाए हुए नजर

महाराष्ट्र 23 सितंबर को केंद्रीय रिजर्व बैंक ने बैंक पर रोक लगा दी है। अकाउंट और एफडी वालों के पैसे निकालने पर रोक लगा दी है। हालांकि बाद में रिजर्व बैंक ने 25 हजार रुपए निकालने की मंजूरी दी थी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned