पीएनबी का ऋण हुआ सस्ता, थोक जमा दरें भी घटी

बैंक ने यहां जारी बयान में कहा कि ऋण ब्याज दरों में कटौती 01 दिसंबर से प्रभावी होगा जबकि जमा दरों में कटौती 05 दिसंबर से लागू होगा...

नई दिल्ली। सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने नोटबंदी के बाद जमा में बढ़ोतरी के मद्देनजर निधियों की सीमांत लागत आधारित उधार दर (एमसीएलआर) में 10 आधार अंकों की कमी करने के साथ ही एक करोड़ रुपए से अधिक की जमा पर ब्याज दरों में 1.25 प्रतिशत तक की कमी करने की घोषणा की है।

बैंक ने यहां जारी बयान में कहा कि ऋण ब्याज दरों में कटौती 01 दिसंबर से प्रभावी होगा जबकि जमा दरों में कटौती 05 दिसंबर से लागू होगा। उसने कहा कि ओवरनाइट दर 9.00 प्रतिशत से घटकर 8.90 प्रतिशत, एक माह के ऋण पर ब्याज दर 9.05 फीसदी से घटकर 8.95 प्रतिशत हो गई है। इसी तरह से तीन माह की दर 9.05 प्रतिशत, छह माह की 9.10 प्रतिशत, एक वर्ष की 9.15 प्रतिशत, तीन वर्ष की 9.30 प्रतिशत, पांच वर्ष की 9.45 प्रतिशत हो गई है।

पीएनबी ने चुनिंदा परिपक्वता अवधि की घरेलू थोक जमा राशियों (एक करोड़ रुपए से 10 करोड़ रुपए तक) की ब्याज दरों में आधा फीसदी से 1.25 फीसद की कटौती की है जो 05 दिसंबर से प्रभावी होगी।
भूप सिंह Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned