Viral video : प्रदर्शनकारियों पर निशाना साधती दिखी पुलिस, डीएमके ने तूतीकोरिन की तुलना 'जलियांवाला बाग' से की

तमिलनाडु के तूतीकोरिन में अभी भी तनाव बना हुआ है

चेन्नई। तमिलनाडु के तूतीकोरिन जल रहा है। बुधवार को भी वहां प्रदर्शन हुए। वहां तनाव बना हुआ है। इलाके धारा 144 लागू की गई है। पुलिस ने एक बार फिर प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस के गोले छोड़े हैं। इसी बीच सोशल मीडिया पर पुलिस की बर्बरता का वीडियो वायरल हो रहा है। इस चौंकाने वाले वीडियो में पुलिसकर्मी बस की छत पर चढ़ कर प्रदर्शनकारियों पर बंदूक साधता नजर आ रहा है। सादे कपड़े में मौजूद पुलिसकर्मी के हाथ में असॉल्ट राइफल दिख रही है।वीडियो में तमिल भाषा में किसी को कहते सुना जा सकता है कि, ‘कोई एक तो मरना ही चाहिए..’इसके बाद वह पुलिसवाला राइफल से गोली चलाता है।इस वीडियो से हालांकि यह साफ नहीं हो सका कि गोली किसी को लगी या नहीं। बता दें कि तमिलनाडु में मंगलवार को हुई पुलिस गोलीबारी में कम से कम 11 लोगों की मौत हो गई और 30 से ज्यादा लोग घायल हो गए।

तूतीकोरिन की तुलना जलियांवाला बाग से

डीएमके के एक नेता इस गोलीबारी की तुलना जलियांवाला बाग से की है। डीएमके ने सभी दलों से इस घटना के खिलाफ 25 मई को विरोध प्रदर्शन का आह्वान किया है।तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ईके. पलानीस्वामी ने घटना की न्यायिक जांच कराने का ऐलान करते हुए कहा है कि, पुलिस को लोगों के जानमाल की रक्षा के लिए मुश्किल परिस्थितियों में कार्रवाई करनी पड़ी, क्योंकि प्रदर्शनकारी बार-बार हिंसा कर रहे थे। वहीं यूनिट के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए मद्रास हाईकोर्ट ने नई यूनिट के निर्माण पर रोक लगा दी है।मानवाधिकार आयोग यानी एनएचआरसी ने तमिलनाडु के मुख्य सचिव और डीजीपी को नोटिस भेजा कर जवाब मांगा है। उधर सरकार ने मामले की जांच के लिए रिटायर्ड जज अरुणा जगदीशन को नियुक्त किया है। मक्कल नीधि मय्यम पार्टी के मुखिया और अभिनेता कमल जब पीड़ितों से मिलने गए तो उन्हें पीड़ितों के परिजनों का विरोध का सामना करना पड़ा।

Show More
Saif Ur Rehman
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned